अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पौधारोपण कर मनाया बेटी दिष्टि मेहरा का पहला जन्मदिन।

चंडीगढ़ – मेहरा एनवायरमेंट एंड आर्ट फाउंडेशन के संस्थापक एवं चेयरमैन कुलदीप मेहरा ने जानकारी दी कि उन्होंने आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयुर्वेदिक मौलश्री के कईं पौधे लगा कर अपनी बेटी दिष्टि मेहरा का पहला जन्मदिन मनाया। वे कहते है कि मैं बहुत भाग्यशाली हूँ जो मेरी बेटी दिष्टि मेहरा 8 मार्च को पैदा हुई। क्योंकि 8 मार्च को ही विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस भी मनाया जाता है। जिसकी शुरुआत वैसे तो 1908 में हुई थी लेकिन इसको मान्यता संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1975 में दी गई। आज महिला दिवस है अगर तुलना भी की जाये तो आज के समय में लड़कियां लड़कों से कहीं आगे सफलता की ओर बढ़ रही है आज लड़कियाँ सिविल सर्विस से लेकर, न्यूज़ चैनलों मीडिया, खेलों और नासा तक अपनी सफलता का लोहा मनवाती आ रही हैं। इसलिए बेटियों को बेटों से कम नहीं समझना चाहिए और बेटियों से ही परिवारों में संस्कार आते है।
आगे मेहरा ने बताया कि हम हमेशा ही समाज में सकारात्मक संदेश देने के लिए कोशिश करते है कि देश के महान धार्मिक गुरुओं, संत-महात्माओं, गणमान्य व्यक्तियों के जन्मोत्सव पर पौधारोपण करते है। इस तरह के कार्यक्रम करने से लोगों में पेड़-पौधों के प्रति भावनाएं तो जुड़ी ही रहती है साथ ही पौधों की देखभाल भी अच्छी तरह से हो जाती है। पेड़-पौधौं से ही हमारा जीवन है यह समस्त प्राणी जगत को प्राण वायु देते हैं इसलिए पर्यावरण शुद्धि करने के लिए हमें किसी ना किसी बहाने ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने चाहिए।
मौलश्री एक सुपरिचित वृक्ष है इसे संस्कृत में केसव, हिन्दी में मोलसरी या बकुल, बंगाली में गांछ, गुजराती में बोलसरी, पंजाबी में मोलसरी, तमिल में अलांगु केसारम कहते है। मौलश्री एक औषधीय वृक्ष है, इसका सदियों से ही आयुर्वेद में उपयोग होता आ रहा है। इस पेड़ के कन्द-मूल,फल, छाल सब काम आती है यह दन्त की पीड़ा एवं मजबुती, सिरदर्द, खुनी दस्त, मूत्राशय रोग, धातु रोग, कमर दर्द, गर्भाशय की शुद्धि, सफ़ेद पानी, घाव, मुखरोग, मसूड़ों की सूजन, हृदय रोग, मस्तिष्क, खाँसी, कब्ज आदि बिमारियों के इलाज में काम आता है।
इस पौधारोपण पर मेहरा एनवायरनमेंट एंड आर्ट फाउंडेशन चंडीगढ़ के संरक्षक दरयाल सिंह मेहरा एवं रतनी मेहरा, संस्थापक एवं चेयरमैन कुलदीप मेहरा, संस्था की अध्यक्ष सरिता मेहरा, संस्था के महासचिव एवं फ्रीलांस आर्टिस्ट प्रदीप मेहरा, पूजा मेहरा, दिष्टि मेहरा, हिमांश मेहरा, पुष्पलता, हैप्पी एवं मुस्कान उपस्थित रहे।