अग्रवाल वैश्य समाज के विधानसभा अध्यक्षों की प्रथम सूची जारी

चंडीगढ़/ 20 जनवरी। अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने संगठन के विधानसभा अध्यक्षों की पहली सूची जारी की है। प्रदेश के 90 विधानसभा में से पहली सूची के अंतर्गत 65 अध्यक्षों के नाम की घोषणा की गई है। जिनमें अनिल अग्रवाल को कालका, मुकेश गुप्ता को अम्बाला सिटी, विकास सिंगला को मुलाना, सुरेन्द्र गोयल को सढ़ौरा, आशीष मित्तल को जगाधरी, पुनीत गर्ग को रादौर विधानसभा अध्यक्ष बनाया गया है।
पहली सूची में 65 अध्यक्षों के नाम की घोषणा, शेष 25 भी शीघ्र किए जाएगे घोषित
इसी प्रकार राजेश सिंगला को पिहोवा, राजेश जिंदल को चीका, शुभम गोयल को लाडवा, गौरव जिंदल को कलायत, सत्यनारायण मित्तल को कैथल, जयप्रकाश गर्ग को पुंडरी, सुशील गुप्ता को नीलोखेड़ी, देवेन्द्र अग्रवाल को करनाल, संजय गुप्ता को घरौंडा, विनोद बिंदल को असंध, बाबूराम गोयल को पानीपत ग्रामीण, संजय सिंगला को पानीपत शहरी, दीपक गर्ग को इसराना, अशोक कुच्छल को समालखा, प्रवीण मित्तल को सफीदों, बी.एस. गर्ग को जींद, लक्ष्मण दास बंसल को टोहाना, मदन बंसल को फतेहाबाद, अशोक गर्ग को रतिया, सुरेश सिंगला को कालावाली, पवन गर्ग को डबवाली, मंगतराय गोयल को रानिया, रवि नड्डा को ऐलनाबाद, सत्यभूषण बिंदल को उकलाना, सुरेन्द्र जिंदल को नारनौंद, सुशील गुप्ता को हांसी, मनोज बंसल को बरवाला, अमर गुप्ता को हिसार, ईश्वर गोयल को नलवा, दयानंद मित्तल को उचाना, अनिल बागनवाला को तोशाम, जितेन्द्र सिंघल को अटेली, राजेश सिंगला को महेन्द्रगढ़, संदीप नूनीवाला को नारनौल, सतीश दिवान को नांगल चौधरी, पवन गर्ग को गढ़ी सापला, जितेन्द्र जैन को कलानौर, सत्यनारायण अग्रवाल को बहादुरगढ़, रूपचंद बंसल को बादली, महेन्द्र बंसल को बादली, बृजमोहन बंसल को कोसली, प्रदीप ऐरन को बेरी, अवधेश गर्ग को बावल, रामकिशन गंडालावाले को रेवाड़ी, मनीष सिंघल को बादशाहपुर, पुनीत मंगला को गुडग़ांव, विजय कुमार को सोहना, विपिन जैन को नूहं, अशोक जैन को फिरोजपुर झिरका, राकेश कंसल को पुनहाना तथा जय प्रकाश गुप्ता को तिगांव, पवन गोयल को होडल, सुभाष सिंगला को हथीन, सुमित गर्ग को पलवल, अतुल सिंगला को पृथला, अमर चंद मंगला को फरीदाबाद एनआईटी, कपिल सिंगला को बडखल, सामलिया गुप्ता को फरीदाबाद, रमेश अग्रवाल को बल्लभगढ़ का विधानसभा बनाया गया है। बुवानीवाला ने बताया कि शेष बचे हुए 25 विधानसभा अध्यक्षों की नियुक्तियां भी शीघ्र ही की जाएगी। उन्होंने बताया कि अग्रवाल वैश्य समाज राजनीतिक दलों की तर्ज पर प्रदेश का सबसे बड़ा सामाजिक संगठन है जो पिछले 10 वर्षों से समाज की राजनीतिक भागीदारी को मजबूत करने के लिए पूरी सक्रियता के साथ काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि आज अग्रवाल वैश्य समाज के बैनर तले प्रदेशभर का वैश्य समाज अपनी राजनीतिक लड़ाई को पूरा करने के लिए संगठनात्मक रूप से एकजुट होकर कार्य कर रहा है।