अग्रवाल वैश्य समाज द्वारा आग्रिम मेयर व पार्षद का चुनाव हेतु लडऩे वैश्य प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करने हेतू काम शुरू

 

चंडीगढ़, 29 नवम्बर: प्रदेश में होने वाले निगम चुनाव मेंं अग्रवाल वैश्य समाज ने अपनी भागीदारी बढ़ाने के लिए कमर कस ली है और चुनाव लडऩे वाले समाज के प्रत्याशियों को विजयी बनाने की रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। इस बारे और जानकारी देते हुए अग्रवाल वैश्य समाज चुनाव समन्वय समिति के चेयरमैन विकास गर्ग ने बताया कि अग्रवाल वैश्य समाज द्वारा मेयर व पार्षद का चुनाव लडऩे के इच्छुक वैश्य उम्मीदवारों से आवेदन मंागे गए है ताकि सभी उम्मीदवारों के जीवन परिचय, राजनीतिक अनुभव व अन्य पृष्ठभूमि के बारे में चुनाव समन्वय समिति द्वारा विचार-विमर्श कर उनकी जीत सुनिश्चित करने की रणनीति तैयार की जा सकें।

विकास गर्ग ने बताया कि अग्रवाल वैश्य समाज द्वारा अपने प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करने हेतू गंभीरता से काम करते हुए राजनीतिक पार्टियों की तर्ज पर पर्यवेक्षकों की नियुक्तियां भी की जाएगी। इन पर्यवेक्षकों को विभिन्न दलों व निर्दलीय चुनाव लड़ रहे समाज के प्रत्याशियों के वार्डों में उतारा जाएगा जो समाज के उम्मीदवारों के पक्ष में चुनाव-प्रचार की बागडोर संभालेंगे।

उन्होंने कहा कि समाज द्वारा विशेष रूप से उन वार्डों में काम किया जाएगा जहां वैश्य उम्मीदवारों में आपस में मुकाबला है। समाज के एक से अधिक उम्मीदवारों के टकराव को रोकने के लिए उन्होंने वैश्य उम्मीदवारों से अपील की कि अपने ही समाज के मजबूत उम्मीदवार को कमजोर करने के लिए चुनाव न लड़ें और ऐसे वार्डों से केवल वहीं वैश्यजन चुनाव लड़ें जो जितने की स्थिती में हो। उम्मीदवारों के साथ समाज के प्रबुद्ध लोगों व मतदाताओं से भी उन्होंने अपील करते हुए कहा कि वे आपसी मंथन व सुझ-बूझ के साथ उसी उम्मीदवार का साथ दे जो जीतने की स्थिती में है। उन्होंने कहा कि समाज के लोग दलगत राजनीति से उपर उठकर समाज के प्रत्याशी को जीताने के लिए आगे आए। विकास गर्ग ने बताया कि वैश्य समाज के लोगों में इन चुनाव के प्रति अच्छा खासा उत्साह है और समाज के लोग चुनाव में बड़ी संख्या में बढक़र कर भागीदारी करने जा रहे हैं।