उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने सितम्बर 2021 की तिमाही के लिए जिला स्तरीय बैंकर्स समिति की समीक्षा बैठक की, करी अध्यक्षता

पंचकूला, 4 जनवरी: उपायुक्त श्री महावीर कौशिक की अध्यक्षता में लघु सचिवालय के सभागार में सितम्बर 2021 की तिमाही के लिए जिला स्तरीय बैंकर्स समिति की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। 

मुख्यमंत्री अन्त्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत बैंको को प्राप्त हुए ऋण आवेदनों को एक सप्ताह के अंदर स्वीकृत करने के दिये निर्देश

बैठक में उपायुक्त ने पशु केसीसी, पीएम स्वानिधि, पीएमईजीपी, एनआरएलएम, हरियाणा एससी/एसटी विकास निगम और हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा प्रायोजित ऋण योजनाओं की प्रगति की बैंकवार विस्तृत समीक्षा की। उपायुक्त ने बैंकरों को पशु केसीसी के लिए बैंक शाखाओं में लंबित लगभग 827 ऋण आवेदनों का शीघ्र निपटान करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री अन्त्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत बैंको को प्राप्त हुए 150 ऋण आवेदनों को एक सप्ताह के अंदर स्वीकृत कर ऋण वितरित करने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री अंत्योदय उत्थान योजना राज्य सरकार की एक अहम योजना है, जिसकी मुख्यमंत्री स्वयं समय समय पर करते है समीक्षा: उपायुक्त

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना राज्य सरकार की एक अहम योजना है, जिसकी मुख्यमंत्री स्वयं समय समय पर समीक्षा करते है। उन्होंने कहा कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य अति गरीब परिवार, जिनकी सालाना आय एक लाख रुपये से कम है, उसे बढ़ाकर कम से कम 1 लाख 80 हजार रुपये करना है। उन्होंने बैंको से आह्वान किया कि वे इस योजना के तहत प्राप्त ऋण आवेदनों पर प्राथमिकता के आधार पर कार्रवाही कर जरूरतमंद लोगों को ऋण उपलब्ध करवाये ताकि वे अपना रोजगार शुरू कर स्वालंबी बनें और अपनी आय को बढ़ा सके।

योजना का उद्देश्य अति गरीब परिवार, जिनकी सालाना आय एक लाख रुपये से कम है, को बढ़ाकर कम से कम 1 लाख 80 हजार रुपये करना है l

उपायुक्त ने सभी बैंकरों को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत नगर निगम द्वारा पंजीकृत रोड ट्रैक विक्रेताओं को ऋण देने और अगले एक सप्ताह के भीतर लंबित 233 आवेदनों को स्वीकृत/वितरित करने का आदेश दिया। इस योजना में प्रत्येक स्ट्रीट वेंडर को 10 हजार रुपये की ऋण सहायता देने का प्रावधान है। इस ऋण में केंद्र सरकार द्वारा 7 प्रतिशत की ब्याज सब्सिडी दी जाती है।

उपायुक्त ने कहा कि आम आदमी खासकर गरीबों और दलितों के लिए बैंकों से कर्ज लेना बेहद मुश्किल काम होता जा रहा है। सभी बैंक पीएमईजीपी, हरियाणा एससी/एसटी विकास निगम और हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा भेजे गए लंबित आवेदनों का दो सप्ताह के भीतर बैंक शाखाओं में निपटान कर युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने में मदद करें।

इस अवसर पर उपायुक्त ने प्राथमिकता क्षेत्र हेतु 5387 करोड़ रुपये की संभाव्यतायुक्त ऋण योजना 2022-23 का विमोचन किया। डी डी एम नाबार्ड द्वारा बताया गया की जिला पंचकुला हेतु वर्ष 2022-23 प्राथमिकता क्षेत्र हेतु 5387 करोड़ रुपये की संभाव्यतायुक्त ऋण योजना का आकलन किया गया है।

इस अवसर पर एलडीओ आरबीआई श्री विशाल, डी डी एम नाबार्ड दीपक जाखर, प्रमुख जिला प्रबंधक श्री बृजेश सिंह, एमएसएमई, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग के अधिकारी और अन्य सरकारी विभागों के प्रतिनिधि और जिले में कार्यरत सभी बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply