कालेज की चारदीवारी बनाने के बावजूद भिवानी मेडिकल कॉलेज का स्थान बदला जाना हास्यास्पद: हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अशोक बुवानीवाला

 

भिवानी, 16 मार्च। हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता अशोक बुवानीवाला ने भिवानी मैडिकल कॉलेज के निर्माण हेतू चल रहे अनिश्चितकालीन धरने पर पहुंचकर मैडिकल कॉलेज के निर्माण की मांग को अपना समर्थन दिया। धरने पर बैठे लोगों को संबोधित करते हुए अशोक बुवानीवाला ने कहा कि 2014 व 2017 के सर्वे के लिए बनी कमेटी ने जो रिपोर्ट व प्रावधान भूमि के लिए दिए थे, उन्हीं को देखते हुए सरकार ने मेडिकल कॉलेज बनाने की मंजूरी देकर तत्कालीन स्वास्थ्यमंत्री व मुख्यमंत्री ने प्रेमनगर में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया था। उन्होंने कहा कि कालेज की चारदीवारी बनाने के बावजूद मेडिकल कॉलेज का स्थान बदला जा रहा है, जो कि हास्यास्पद है। उन्होंने हैरानी व्यक्त की कि सरकार नाम की कोई चीज नहीं बची है। बुवानीवाला ने कहा कि मेडिकल कॉलेज के स्थान परिवर्तन से क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं मिलने में अनावश्यक देरी हो रही है। जबकि कांग्रेस शासन में घोषित अन्य मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार भी हो गए हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व सांसद श्रुति चौधरी के प्रयासों से भिवानी को मिले मेडिकल कॉलेज के साथ राजनीति कर भिवानी की जनता को स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित किया जा रहा है। बुवानीवाला ने सरकार की नीतियों की आलोचाना करते हुए मेडिकल कॉलेज को प्रेमनगर में ही बनवाने की बात कही तथा लोकतांत्रिक तरीके से धरने को चलाने व संषर्घ से जीतने की बात कही। खट्टर सरकार पर मैडिकल कॉलेज के नाम पर भिवानी की जनता को बरगलाने का आरोप लगाते हुए बुवानीवाला ने कहा कि मैडिकल कॉलेज के नाम पर सरकार पिछले तीन साल से यहां की जनता को भ्रमित कर उनके हितों से खिलवाड़ कर रही है। शिलान्यास के नाम पर वोट बटोरने के लिए भिवानी की जनता को अंधेरे में रखा गया जिसके लिए खट्टर सरकार को भिवानी की जनता से माफी मांगनी चाहिए।