कृषि विज्ञान केंद्र ने मनाया वन महोत्सव व वितरित किए फलदार पौधे

 

पंचकूला, 8 जुलाई: चैधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के पंचकूला स्थित कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से वन महोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन केंद्र की इंचार्ज श्रीदेवी तल्लाप्रगड़ा के मार्गदर्शन में किया गया। पौधारोपण के उपरांत अपने संदेश मे उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण असंतुलन ने मानव का जीना दुभर कर दिया है। दिनों-दिन बढ़ते हर प्रकार के प्रदुषण ने धरती पर जीवन को खतरे में डाल दिया है। केवल पौधारोपण करके ही पर्यावरण संतुलन को बनाया जा सकता है। इसलिए हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाते हुए उनकी देखभाल की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि वन महोत्सव के दौरान पौधारोपण अभियान के तहत मोरनी ब्लॉक के गांव कोल्यो में पौधे लगाए गए और लोगों को अधिक से अधिक पौधे लगाने के लिए जागरूक किया गया।

डॉ. वंदना ने ग्रामीणों को औषधीय पौधों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए उनके महत्व के बारे में बताया। डॉ. राजेश लाठर ने फलदार पौधे लगाने की अपील की। उन्होंने कहा कि फलदार पौधों से न केवल पर्यावरण शुद्ध होता है बल्कि किसान फल बेचकर अपनी आमदनी में भी इजाफा कर सकते हैं। साथ ही यह फसल विविधिकरण में भी सहायक हैं।

डॉ. गुरनाम सिंह ने किसानों को आय दोगुणी करने के लिए विभिन्न वैज्ञानिक तौर तरीकों से अवगत कराया। इस कार्यक्रम के दौरान केंद्र के वैज्ञानिक, स्टाफ सदस्य व ग्रामीण मौजूद रहे।