गांधी स्मारक भवन में मनाया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

चण्डीगढः आज गांधी स्मारक भवन एवं योग इण्डिया फाउन्डेशन भारत के सहयोग से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस बडे़ ही श्रद्धापूर्वक मनाया गया।  फेसबुक लाईव एवं जूम एप के माध्यम  से लगभग दस हजार लोगों ने योग क्रियाऐं करने के लिए जुडे़। गांधी स्मारक निधि के मंत्री डाॅ. देवराज त्यागी ने सभी साधको को योग दिवस की बधाई दी तथा उनके स्वास्थ्य रहने की कामना की। उन्होंने आगे कहा कि आज से छः साल पहले 21 जून 2015 को पहली बार अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था। 11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मनाये जाने की मान्यता दी थी। प्राकृतिक चिकित्सा समिति के अध्यक्ष डाॅ. एम.पी.डोगरा ने इस अवसर पर बताया कि योग को प्राचीन भारतीय कला का प्रतीक माना जाता है। इस दिन को मानाने का उद्देश योग के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करने के साथ लोगांे को तनाव मुक्त करना भी है।
योग इण्डिया फाउन्डेशन भारत के संस्थापक अध्यक्ष योग गुरू डाॅ. नरेश योगी एवं संस्थापक सचिव रमन शर्मा ने योग आसन कराते हुए योग आसनों का लाभ भी बताये उन्होंने आगे बताया कि कोरोना महामारी को लेकर लोग तनाव एवं चिन्ता ग्रस्त हो रहे है। ऐसे में योग के द्वारा शारीरिक एवं मानसिक इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है। तथा हम स्वास्थ्य रह सकते है। इन्होंने बताया कि हमारी संस्था योग एवं प्राणायाम तथा प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति द्वारा देश के स्वस्थ के लिए निरन्तर काम कर रही है।   

Leave a Reply