जिला नगर योजनाकार (ई०) पंचकूला द्वारा पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र बनोई खुदाबक्श की राजस्व सम्पदा में की गई बड़ी कार्यवाही

पंचकूला, 9 सितम्बर: जिला नगर योजनाकार (ई०) पंचकूला द्वारा पेरीफेरी नियंत्रित क्षेत्र बनोई खुदाबक्श की राजस्व सम्पदा में आज विभाग द्वारा बड़ी कार्यवाही की गई। इस कार्यवाही में अवैध रूप से निर्माणाधीन 1 शोरूम व 4 दुकानों को ध्वस्त किया गया। इस कार्यवाही में जिला नगर योजनाकार पंचकूला श्रीमति प्रियम भारद्वाज व रेंज फोरेस्ट ऑफिसर पिंजौर श्री अमित शर्मा, बतौर ड्यूटी मैजिस्ट्रेट मौजूद रहे। इसके अतिरक्त जिला नगर योजनाकार (ई०) की टीम तथा किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस बल तोड़फोड़ दस्ते के साथ मौजूद था। लोगों द्वारा तोड़-फोड़ का काफी विरोध भी किया गया, लेकिन विभाग ने अपनी कार्यवाही जारी रखी।

अवैध रूप से निर्माणाधीन 1 शोरूम व 4 दुकानों को किया गया ध्वस्त |

यह जानकारी देते हुए जिला नगर योजनाकार पंचकूला, श्रीमति प्रियम भारद्वाज ने बताया कि नियंत्रित क्षेत्र तथा अर्बन एरिया में कोई भी कार्य करने से पहले विभाग की अनुमति लेना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि कोई भी अवैध निर्माण विकसित करने से पहले निदेशक, नगर तथा ग्राम आयोजना विभाग, हरियाणा, चंडीगढ़ द्वारा विभागीय अनुमति लेना आवश्यक है।

उन्होंने बताया कि उपरोक्त अवैध निर्माण भू-मालिकों द्वारा पॉपर्टी डीलरों के साथ मिलकर बिना किसी सरकारी अनुमति के विकसित किया जा रहा था। ऐसे भू-मालिकों, प्रॉपर्टी डीलरों तथा अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ अर्बन एरिया एक्ट-1975, पैरिफेरी नियंत्रित क्षेत्र- 1952 तथा नियंत्रित क्षेत्र 1963 के तहत विभाग सख्त कानूनी कार्यवाही करता है तथा इनके खिलाफ एफ. आई. आर. दर्ज भी करवाई जाती है,

जिसमें तीन साल कारावास तथा जुर्माने का भी प्रावधान है।

श्रीमति प्रियम भारद्वाज ने कहा कि जनता से अनुरोध किया गया है कि विभाग से सी.एल.यु की अनुमति लिए बिना किसी भी प्रकार के छोटे या बड़े निर्माण न करें, ताकि जनता की कड़ी मेहनत का पैसा बर्बाद न हो और अनाधिकृत अवैध निर्माणों पर रोक लग सके। इसलिए किसी भी प्रकार का ऐसा निर्माण कार्य न करें, जिससे आपकी मेहनत की कमाई व्यर्थ हो।

Leave a Reply