जि़रोधा का ग्राहक आधार बढ़ कर 7 लाख से अधिक हुआ

चंडीगढ़, 13 मार्च 2018: जि़रोधा, भारत की प्रमुख प्रौद्योगिकी संचालित ब्रोकरेज फर्म ने आज इस वित्तीय वर्ष के लिए अपनी ग्राहकों की संख्या में अच्छी खासी बढ़ोतरी और अपने डायरेक्ट म्यूचुअल फंड प्लेटफार्म-कॉयन पर ग्राहकों की संख्या बढ़ने की घोषणा की।

पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में जि़रोधा ने 249 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ पूरे देश में ग्राहकों की संख्या 7 लाख से अधिक करने में सफलता हासिल की है। पिछले एक साल में, यानि वित्त वर्ष 17-18 में जि़रोधा का ग्राहक आधार काफी तेजी से बढ़ा है और ये आधार पूरे देश में फैला है।

कॉयन, भारत का पहला डायरेक्ट एमएफ+ इक्विटी प्लेटफार्म है जो ग्राहक को म्यूचुअल फंड ऑनलाइन खरीदने की सुविधा देता है, जो कि पूरी तरह से कमीशन-मुक्त, सीधे एसेट मैनेजमेंट कंपनियों से खरीदे जा सकते हैं। कॉयन के माध्यम से म्यूचुअल फंड्स को डीमैट फार्मेट में ऑनलाइन ही खरीदा जा सकता है और आप अपनी इक्विटी, म्यूचुअल फंड, करेंसी को एक सुविधाजनक पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं। किसी भी समय एसआईपी शुरू कर सकते हैं, बंद कर सकते हैं या संशोधित कर सकते हैं और पहले 25,000 / – का निवेश पूरी तरह से फ्री है।

इस बढ़ते आधार के बारे में बात करते हुए श्री नितिन कामथ, संस्थापक और सीईओ, जि़रोधा ने कहा कि ‘‘वर्ष 2017 हमारे लिए एक व्यवसाय के रूप में तेजी से आगे बढ़ने का वर्ष था। हम सभी एक्सचेंजों और सेगमेंटों पर टर्नओवर करके भारत में सबसे बड़े रिटेल ब्रोकर बन गए हैं, जो मासिक रूप से भारत में सबसे बड़ा नया ग्राहक जोड़ रहा है और कॉयन भी अपने आप में सबसे बड़ा डायरेक्ट म्यूचुअल फंड प्लेटफॉर्म है। अगली तिमाही में हमारी प्रौद्योगिकी टीम के नेतृत्व में, हमारे पास कई नए उत्पादों को लॉन्च करने की तैयारी है। मुझे उम्मीद है कि हम नई पेशकशों के साथ और हमारे मौजूदा और नए ग्राहकों को पूरी तरह से नया अनुभव प्रदान करना जारी रखेंगे, हम इस वित्तीय वर्ष में तेजी से बढ़ने में सक्षम होंगे।’’

कॉयन अब तक 1000 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश सुविधाजनक ढंग से करने में माध्यम केी भूमिका निभा चुका है और बाजार में अब तक का सबसे बड़ा निवेश है।

नितिन ने कहा कि ‘‘एक सूचित निवेशक के लिए, म्यूचुअल फंड सीधे खरीदना सबसे अच्छा विकल्प है। डायरेक्ट बनाम वितरक में 25 साल के लिए 5000 रुपये का एसआईपी का निवेश संभवत: 28 लाख रुपए कमीशन के रूप में बचा सकता है। डीमैट में प्रत्यक्ष म्यूचुअल फंड खरीदना एक एकल पोर्टफोलियो देखने की सुविधा भी देता है।’’

पंजाब में, जि़रोधा के ऑफिस चंडीगढ़, अमृतसर और लुधियाना में हैं। यहां पर वित्त वर्ष 2017-18 में 247 प्रतिशत की दर से ग्राहक आधार बढ़ा है और ये 7500 से अधिक हो चुका है। चंडीगढ़ में ब्रांच का एक टच प्वाइंट और दो पार्टनर ऑफिसिज भी हैं। चंडीगढ़ में, जि़रोधा के एक ब्रांच ऑफिस में 2000 से अधिक ग्राहक हैं और वित्त वर्ष 17-18 में ये 312 प्रतिशत की दर से बढ़े हैं। अपने ग्राहकों की बढ़ती जरूरतों को व्यवस्थित करने के लिए, जि़रोधा की वर्तमान में भारत में 22 शाखाएं, 94 पार्टनर कार्यालय और 6 सपोर्ट एवं कॉल एवं ट्रेड ऑफिस हैं।