डाॅक्टर्स डेे पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने किया रक्तदान शिविर का उद्घाटन

 

पंचकूला, 1 जुलाई: आज डाॅक्टर्स दिवस के अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने सेक्टर-15 के आईएमए हाउस में रक्तदान शिविर का उद्घाटन किया। रक्तदान शिविर का आयोजन बीजेपी मैडिकल सेल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन पंचकूला तथा विश्वास फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।

श्री गुप्ता ने कोरोना काल में कोविड के कारण अपनी जान गवाने वाले डाॅक्टर्स और अन्य कोरोना योद्धाओं को किया नमन

श्री गुप्ता ने रक्तदाताओं से मुलाकात की व उनका मनोबल बढ़ाते हुये उन्हें सर्टिफिकेट देकर सम्मानित भी किया। रक्तदान शिविर में सेक्टर-6 सिविल अस्पताल के डाॅक्टरों की टीम द्वारा 50 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया।

रक्तदान महादान है और रक्त का कोई विकल्प नहीं है: गुप्ता

इस अवसर पर बोलते हुये श्री गुप्ता ने रक्तदान शिविर के आयोजन के लिय बीजेपी मैडिकल सेल, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन पंचकूला तथा विश्वास फाउंडेशन को बधाई दी और कहा कि यह रक्तदान शिविर एक उपयुक्त दिवस पर आयोजित किया जा रहा हैं।

श्री गुप्ता ने कहा कि रक्तदान महादान है और रक्त का कोई विकल्प नहीं है और न ही इसे कृत्रिम तरीके से बनाया जा सकता। उन्होंने कहा कि पूर्व में रक्तदान से शरीर में कमजोरी आना व बीमारी लगने जैसी अनेक प्रकार की भ्रांतियां थी परंतु आज यह भ्रांतियां दूर हो चुकी है और हमारे युवा बड़ी संख्या में रक्तदान कर रहे है। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि आज हमारी बेटियां भी रक्तदान के मामले में लड़कों से पीछे नहीं है और स्वयं आगे आकर रक्तदान कर रही है। उन्होंने कहा कि समय पर रक्त की उपलब्धता होने से अमूल्य जीवन को बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यदि हम रक्तदान के माध्यम से किसी का जीवन बचा सकते है तो इससे बड़ा उपकार नहीं हो सकता।

इस अवसर पर उन्होंने कोरोना काल में कोविड के कारण अपनी जान गवाने वाले डाॅक्टर्स को नमन किया और कहा कि जिस प्रकार से कोविड काल में डाॅक्टर्स ने अपनी जान की परवाह किये बिना महीनों महीनों परिवार से अलग रहकर रोगियों की सेवा की है, वह काबिले तारीफ है। इसके अलावा उन्होंने डाॅक्टर्स के साथ साथ अन्य कोविड योद्धाओं जैसे पुलिस, एनएचएम वर्कर इत्यादि को भी नमन किया, जो कोविड काल में अपनी सेवाओं का निर्वहन करते हुये शहीद हुये है। उन्होंने कहा कि कोरोना कम हुआ है पर अभी समाप्त नहीं हुआ है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह सरकार द्वारा समय समय पर जारी दिशा निर्देशों का कड़ाई से पालन करें व बहुत आवश्यक होने पर ही घर से निकले।

कोविड की तीसरी लहर का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि देश में कई स्थानों पर डेल्टा प्लस वेरियंट के लक्षण सामने आये हैं, जिसे गंभीरता से लेते हुये सरकार द्वारा कड़े प्रबंध किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ट्राई सिटी में पंचकूला में कोरोना के सबसे कम मामले है, इसके लिये उन्होंने जिला प्रशासन व नागरिक अस्पताल सेक्टर-6 के डाॅक्टर्स की पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य जिला पंचकूला में कोरोना के मामलों को शून्य पर लाना है।

आईएमए पंचकूला के प्रधान राजीव आर्या ने कहा कि कोरोना काल में डाॅक्टरों ने अग्रीम पंक्ति में रहकर जनता की सेवा की है। उन्होंने कहा कि देशभर में कोरोना की दोनों वेव में कुल 1500 से ज्यादा डाॅक्टरों ने अपनी जान गवाई हैं। उन्होंने कहा कि आज भी डाॅक्टर अपनी जान की प्रवाह किये बिना जनता की सेवा में तत्परता से लगे है।

इस अवसर पर मेयर कुलभूषण गोयल, जिला बीजेपी प्रधान अजय शर्मा, जिला महामंत्री परमजीत कौर, जिला महामंत्री वीरेंद्र राणा, बीजेपी मैडिकल सेल के संयोजक आशीष गुलेरिया, सह-सयोजक संजय भट, माता मनसा देवी मंडल अध्यक्ष युवराज कौशिक, मंडल महामंत्री प्रमोद वत्स, बूथ अध्यक्ष दलजीत, सहशक्ति केंद्र प्रमुख बीपी मंगला, विश्वास फाउंडेशन की जनरल सेके्रटरी साध्वी निलिमा, वाईस प्रेजिडेंट साध्वी शक्ति विश्वास, गौरव गुलेरिया, मुकेश अग्रवाल सहित रक्तदाता उपस्थित थे।