नागरिकता संशोधित अधिनियम (सीएए) के समर्थन में मोबाईल न0 8866288662 पर मिस काॅल देकर दें सहमति – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल

पंचकूला/ 5 जनवरी। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के आने से पड़ोसी देशों से प्रताड़ित लोगों को नागरिकता मिलने के रास्ते खुल गए हैं। इस अधिनियम के तहत हरियाणा के 1300 लोगों को नागरिकता मिल सकेगी और अब वे भारत के नागरिक बन कर खुशहाल जीवन जीएगें।
मुख्यमंत्री आज पंचकूला के सैक्टर 10 में घर घर जाकर इस अधिनियम के प्रति लोगों को जागरूक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी लोगों को नागरिकता संशोधित अधिनियम (सीएए) के प्रति सचेत एवं जागरूक करने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चला रही है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि इस अधिनियम सेे देश के किसी भी व्यक्ति की नागरिकता नहीं जाएगी बल्कि सीएए पडोसी देशों के धार्मिक तौर पर प्रताड़ित अल्पसंख्यक लोगों की नागरिकता सुरक्षित करने के लिए बनाया गया है।
श्री मनोहर लाल ने कहा कि सीएए के संसद में पास होने पर कुछ लोगों ने भ्र्रातिंया फैलाने का काम शुरू कर दिया जिसके कारण देश व प्रदेश में अराजकता का माहौल बन गया। लोगों में फैली हुई भ्रांतियों को दूर करने के लिए पार्टी ने लोगों तक सही एवं स्टीक संदेश देने का निर्णय लिया है। इसीलिए पार्टी ने पूरे प्रदेश में यह अभियान चलाया है जिसका शुभारम्भ हरियाणा के पंचकूला से किया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत के पडोसी पाकिस्तान, अफगानिस्तान व बंगलादेश आदि देशों में हिन्दु, सिख, जैन, बौद्व, इसाई आदि कम संख्या में होने के कारण जलालत सहनी पड़ती थी जिसके कारण वे उन देशों को छोडकर भारत आ गए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को पहले 1955 के कानून के तहत 11 साल बाद नागरिकता देने का प्रावधान था लेकिन अब इस अधिनियम के तहत  2014 से पहले भारत में आए लोगों को नागरिकता दे दी जाएगी । उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेेयी के शासनकाल के दौरान पूर्व पं्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह ने भी प्रताडित लोगों को नागरिकता देने पर विचार करने बारे कहा था।
उन्होंने कहा कि पिछले दिनों पाकिस्तान में सिख गुरूद्वारे पर हुए पथराव के प्रति पीडा होती है इसलिए हमें पाकिस्तान सरकार के रवैये के विरूद्व मानवाधिकार आयोग के समक्ष आवाज उठानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सीएए का साहित्य छपवाकर वितरित किया जा रहा है। इसलिए लोगों को सीएए को भली भांति पढ कर और मोबाईल न0 8866288662 पर मिस काॅल देकर इसके समर्थन में अपनी सहमति दें। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया कि वे नागरिकता संशोधित बिल को सहमति अवश्य प्रदान