न्यूड वीडियो बनाकर लोगों को ब्लैकमेल करने वाले गैंग का पर्दाफाश व 2 गिरफ्तार  

  पंचकूला, 23 दिसम्बर 2021: पुलिस उपायुक्त पंचकूला श्री मोहित हाडां के निर्देशानुसार जिला पंचकूला सें साईबर सैल पंचकूला के साथ प्रंबधक पुलिस थाना सैक्टर 20 सुशील कुमार व उसकी टीम नें मिलकर एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है जो लोगों को सोशल मीडिया (फेसबुक, इंस्टाग्राम) के माध्यम सें दोस्ती करकें व्टसअपर द्वारा विडियो कॉल करकें न्यूड वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल कर मोटी रकम ऐंठता है । पुलिस ने गैंग में दो आरोपियो को गिरफ्तार किया है । जिनके कब्जे से 3.50 लाख रुपये बरामद किया है । पुलिस नें आरोपी नासिर मौहम्मद पुत्र आश मोहम्मद वासी गाँव इसनाका, थाना नगर, भरतपुर राजस्थान को दिनांक 20 दिसम्बर को दिल्ली पुलिस सें प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पेश अदालत तीन दिन के पुलिस तीन दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया । जो आरोपी से पुछताछ के दौरान इस गैंग में सलिप्त दुसरें आरोपी कुशलपाल उर्फ अजय पुत्र राममोहन वासी गाँव जरार, थाना बाहा, जिला आगरा उतर प्रदेश को दिनांक 22 दिसम्बर को भिवाडी राजस्थान से गिरफ्तार किया गया औऱ आरोपियो सें 3.50 लाख रुपयें कैश बरामद किया गया है । 

आरोपियो से 3.50 लाख रुपयें बरामद किये गयें ।

जानकारी के मुताबिक 08 जुलाई 2021 को कार्यालय पुलिस उपायुक्त पंचकूला माध्यम सें पुलिस थाना सैक्टर 20 पंचकूला में शिकायत प्राप्त हुई कि जो शिकायत में के.सी. राणा वासी यंगमैन हाऊसिंग सोसाईटी सैक्टर 20 पंचकूला नें कहा कि कुछ दिन पहलें उसके फेसबुक अकाऊंट पर एक निशा नाम की लडकी की फ्रैण्ड रिक्वैस्ट भेजी थी जिस फ्रैण्ड रिकवैस्ट शिकायतकर्ता नें स्वीकार कर लिया फिर वह मैसेज भेजनें लग गई ।

आरोपी कुशलपाल उर्फ अजय को भिवाडी राजस्थान सें गिरफ्तार किया गया ।

फिर उसनें फेसबुक के माध्यम सें व्टसअप नम्बर ले लिया अगले दिन उस लडकी नें शिकायतकर्ता को व्टसअप के माध्यम सें न्यूड वीडियो न्यूड वीडियो कॉल की और रिकार्किंग कर ली औऱ फिर वह शिकायतकर्ता स्क्रीनशाट लेकर उसके दोस्तो को भेजनें लग गई औऱ पैसो की डिंमांड करनें लगी गई और शिकायतकर्ता नें उनको 42000/- रुपयें, 35000/- रुपयें, 71000 पैसें ट्रांसफर कर दियें फिर शिकायतकर्ता को गौरव मलहोत्रा के नाम से काल करकें कहा कि आपकी एक यु-टुब पर एक आपाजनिक विडियो अपलोड हुई है औऱ हमारें पास एक महिला नें शिकायत दर्ज करवाई है औऱ हम आपको गिरफ्तार करेंगें फिर उन्होने यु-टुब से विडियो डिलिट करवानें कें लिए बोला और कहा कि शिकायतकर्ता नें वीडियो डिलिट करनें के लिए गैगं को 32000/-,25000/-,71000/- रुपयें ट्रासंफर कर दियें उसके बाद फिर व पैसो की डिमांड करनें लग की फिर शिकायतकर्ता नें उनके अकाऊण्ट में 1 लाख रुपयें, 4 लाख रुपयें , 3 लाख रुपयें , 1.5 लाख रुपये, 50000/- रुपयें करतें करतें शिकायतकर्ता के साथ 1273000/- रुपयें (करीब 13 लाख रुपए की ठगी की गई । जिस बारें शिकायतकर्ता नें साईबर पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करवाई शिकायत पर पुलिस थाना सैक्टर 20 पंचकूला में धारा 406/420 भा.द.स. के तहत मामला दर्ज किया गया औऱ मामलें में आगामी तफतीश कार्यवाही करतें हुए उपरोक्त गैंग का पर्दाफाश करतें हुए दो आरोपियो को गिरफ्तार किया गया जो आरोपियो को पेश अदालत पुलिस रिमाण्ड पर लिया जायेगा ताकि मामलें में अन्य सलिप्त आरोपियो को गिरफ्तार किया जा सके और मामलें में बरामदी की जा सकें ।

पंचकूला पुलिस एडवाईजरी :- 

इस प्रकार का गैंग अलग-अलग लड़कियों की खूबसूरत फोटो के जरिए अलग अलग नाम से फर्जी प्रोफाइल बनाकर युवकों से पहले डेटिंग ऐप या सोशल मीडिया पर दोस्ती करते हैं । इसके बाद रात में फेसबुक मैसेंजर या वॉट्सऐप पर वीडियो कॉल कर न्यूड वीडियो बना लेते हैं । दरअसल, ये साइबर क्रिमिनल वीडियो कॉलिंग के दौरान मोबाइल फोन पर स्क्रीन रिकॉर्डर ऑन कर रिकॉर्डिंग कर लेते हैं । इसके बाद बैकग्राउंड में पहले से बनाई लड़की के न्यूड होने की वीडियो प्ले कर देते हैं । और फिर बाद में इसी वीडियो को फेसबुक फ्रेंड्स और रिश्तेदारों को भेजने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते हैं ।

• सोशल मीडिया अकाउंट के प्रोफाइल को हमेशा लॉक रखें । तथा अपने फेसबुक प्रोफाईल पर प्राईवेसी सैटिग करके रखें ।

• अन्जान नम्बर से विडियो कॉल को रिसीव ना करें । अगर कॉल रिसीव कर ली गई है तो मोबाइल का कैमरा फ्रंट की बजाय रियल मोड पर कर दें । या तो हमेशा फेस को दूर रखें ।

• सोशल मीडिया अकाउंट (फेसबुक, इंस्टाग्राम) अन्य अकाऊंट में किसी अन्जान लडकी की भेजी हुई फ्रैण्ड रिकवैस्ट स्वीकार ना करें ।

• अगर आपकी वीडियो यूट्यूब पर अपलोड कर दी गई है तो उसे रिपोर्ट कर दें ऐसा करने यूट्यूब उस वीडियो को यूट्यूब से हटा देगी ।

• किसी भी अजनबी को अपने प्रोफाइल के बारे में पूरी जानकारी नहीं दें । अपनी पहचान या कोई एड्रेस भी ना दें । और ना ही अपना पर्सलन मोबाईल नम्बर शेयर करें ।

• अगर आपके साथ इस प्रकार का फ्राड हो जाता है नजदीकी पुलिस थाना में जाकर व नेशनल साईबर क्राईम रिपोर्टिग पोर्टल (www.cybercrime.gov.in) पर जाकर शिकायत दर्ज करवा सकते है ।