पंचकूला जिला सचिवालय परिसर में मनाया संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस

पंचकूला, 24 अक्टूबर:  उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा के निर्देषानुसार संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस के अवसर पर जिला सचिवालय परिसर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस दौरान विश्व की शांति के लिए राष्ट्रीय ध्वज के साथ ही संयुक्त राष्ट्र संघ का ध्वज भी लगाया गया।

हमें देश, समाज व विश्व की शांति के लिए काम करना चाहिए |

उल्लेखनीय है कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद विश्व के देशों ने विचार किया कि विश्व स्तर पर एक ऐसा मंच बनाया जाए, जो पूरे विश्व में शांति के लिए कार्य करे। जिसके माध्यम से मानव के अधिकारों की रक्षा हो सके। उन्होंने कहा कि जिसके लिए 24 अक्टूबर 1945 को संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना की गई। उन्होंने कहा कि 24 अक्टूबर 1948 से संयुक्त राष्ट्र दिवस मनाने का निर्णय लिया गया। तभी से इस दिन पूरे विश्व में अमन और शांति के लिए संयुक्त राष्ट्र दिवस मनाया जाता है।

वर्तमान में कोई भी देश अपने अधिकारों व हितों की आवाज संयुक्त राष्ट्र संघ में रख सकता है। उन्होंने कहा कि हमें देश व समाज में शांति की स्थापना के लिए कार्य करना चाहिए। किसी दूसरे व्यक्ति के अधिकारों का हनन नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें चाहिए हमारे परिवारों का विखंडन न हो, तभी एक सभ्य समाज का निर्माण किया जा सकता है। इस मौके पर कई कर्मचारी व पुलिस विभाग के कर्मचारी मौजूद रहे।

राजकीय महाविद्यालय कालका, प्राचार्य  प्रोमिला मलिक की अध्यक्षता में भी संयुक्त राष्ट्र दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में युएनओ डे पर विस्तार से  प्रकाष डाला। प्रो. सुनीता चैहान, मीना षर्मा ने युएनओ डे के बारे में जानकारी देते हुए 1948 में द्वितीय विष्व युद्ध के बाद इसकी नींव रखी गई। जिसमें राष्ट्रों को एक ऐसा मंच प्रदान किया गया जिसमें आपसी विवाद सुलझा सकें ओर विष्व को ज्यादा से ज्यादा बेहतर बनाने में सहायक बन सके।