पंचकूला ज़िला प्रशासन की आम जनता से एकजुट होकर गरीब परिवारों के सरंक्षण की गुराह

पंचकूला  28 मार्च- सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण ने कहा कि जिला के लोग एकजूट होकर कोरोना वायरस के दौरान लाॅक डाउन के चलते गरीब परिवारों की मदद के लिए आगे आंए ताकि जिला के प्रत्येक जरूरतंमद व्यक्ति तक आसानी से खाद्य सामग्री पहंुचाई जा सके।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के प्रधान सचिव जिला सचिवालय के सभागार में जिला के स्वंयसेवी संगठनों एवं अन्य समाजसेवियों से विचार विमर्श कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के फैलने से रोकने के लिए लाॅक डाउन के दौरान गरीब परिवारों, झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले, रिक्शा चालकों, दिहाड़ीदार लोगों के लिए खाने की दिक्कतें आ रही है। यह एक चुनौती पूर्ण कार्य है लेकिन इसे जनता के सहयोग से ही पूरा किया जा सकता है।
प्रधान सचिव ने कहा कि सरकार ने भी बीपीएल, मुख्यमंत्री परिवार समृद्वि योजना एवं मजदूरी के कार्य में लगे हुए परिवारों को आर्थिक सहायता देने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही जो व्यक्ति इन तीनों योजनाओं में कवर नहीं होते ऐसे लोगों को भी अलग से आर्थिक सहायता देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्तियों को खाने की दिक्कतें आती है। जिला प्रशासन द्वारा खाने के पैकेट वितरित किए जा रहे हैं। फिर भी हमें जनता के साथ मिलजुलकर कार्य करना होगा।
श्री शरण ने कहा प्रशासन का प्रयास है कि स्लम बस्तियों, झुग्गी आदि में घर घर जाकर सूखे राशन के पैकेट वितरित किए जाए। इनमें आटा, चावल, तेल, दाल, नमक, आलु, प्याज आदि खाने की वस्तुएं शामिल हों। उन्हांेने कहा कि अब भी लोग जरूरतमंद व्यक्तियों को खाना वितरित करने का कार्य कर रहे है। यह बड़ा ही सराहनीय कार्य है। इसमें जनता का सहयोग मिल रहा है और लोग बढचढ कर आगे आ रहे है। स्वंय सेवी संगठनों एवं समाजसेवी से सुझाव भी आमंत्रित किए गए।
उपायुक्त मुकेश कुमार आहूूजा ने कहा कि जिला में कलस्टर अनुसार ऐसे लोगांे की पहचान कर ली गई है। तीन तरह से लोगों को खाने की सेवाएं प्रदान की जाएगी। व्यक्तिगत या संगठनो को कुछ एरिया दिया जाएगा। उसमें वे स्वंय जाकर खाद्य सामग्री बांटेगें। इससे उनकी संतुष्टि होगी और जनता की भलाई होगी। इसके अलावा कुछ स्लम ऐरिया में फुड पैकेट वितरित किए जाएगें। उनमेें लोगों का सहयोग लिया जाएगा। इसी प्रकार कुछ संगठन एवं समाजसेवी प्रशासन को खाद्य सामग्री एवं आर्थिक सहयोग देंगें तो प्रशासन शेष क्षेत्रों के लोगों मंे राशन बंटवाना सुनिश्चित करेंगा। इस पर सभी लोगों ने भरपूर सहयोग देने का आश्वासन दिया। कई व्यक्तियों ने आवारा डाॅग को खाने की पूर्ति करने के भी सुझावा दिए। इस पर वे गौशालाओं से खाना लेकर उन्हें खिलाने का कार्य करेंगें।
बैठक में सीईओ एमडीसी  एम एस यादव, एसडीएम धीरज चहल, एसडीएम राकेश संधु, जिला राजस्व अधिकारी रामफल कटारिया, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी दमन सिंह, रोटरी क्लब सहित कई स्वंयसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी एवं समाजसेवी उपस्थित रहे।