‘पैग’ मारने वालों को नहीं होगा कोरोना…

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जैसे ही अगले 6 दिन के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया…शराब पीने वालों की सांसे अटक गईं और उन्हीं अटकी सांसों के साथ वो दौड़ पड़े शराब ठेकों को| देखते-देखते दिल्ली के अलग-अलग शराब ठेकों पर लोगों का भारी मजमा लग गया|

लॉकडाउन के ऐलान पर शराब ठेके को दौड़ी महिला ने बता डाला अपना इतिहास |

जो कि बेहद हैरान कर रहा था क्योंकि लोग शराब पाने को इसकदर टूट पड़ रहे थे जैसे शराब ठेकों के बाहर कोई अमृत बंट रहा हो| इस दौरान एक दूसरे से उचित दूरी का तनिक भी ख्याल नहीं रखा गया| वहीँ, ये सब कुछ तो हैरान कर ही रहा था साथ ही दंग करने वाली बात यह थी कि महिलाएं भी शराब ठेकों के बाहर शराब लेने को नजर आ रही थीं| इन्हीं में से एक महिला ने शराब को ऐसा अमृत बताया कि दवाइयां कुछ हैं ही नहीं…शराब सबकुछ ठीक कर देती है|

महिला की बातें शराब को दवाइयों पर भारी पड़वा रही थीं| कोरोना को लेकर महिला ने कहा कि इंजेक्शन फायदा नहीं करेगा, अल्कोहल फायदा करेगा। महिला ने कहा कि उसे दवाओं से असर नहीं होगा, पैग से असर होगा और जितने भी शराबी हैं इन्हें कुछ नहीं होने वाला..बस शराब मिलती रहे|

महिला ने बताया कि लॉकडाउन लगे तो लगता रहे बस ठेके न बंद हों..महिला ने बताया कि वह पिछले 35 सालों से पैग मार रही है..उसे किसी और डोज की जरुरत नहीं| शराब पीने से अस्पताल जाने से बच जायेंगे|