प्ंचकूला सैक्टर 1 स्थित राजकीय महाविद्यालय रोजगार मेले का आयोजन

प्ंचकूला/  12 फरवरी- हरियाणा के परिवहन, खनन, औद्योगिक एवं कौशल विकास मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि वर्तमान समय में रोजगार मेलों का आयोजन करना बहुत बडी आवश्यकता है ताकि प्रतिस्र्पधा के युग में युवाओं को पूर्ण जानकारी के साथ रोजगार हासिल हो सके।
कौशल विकास मंत्री सैक्टर 1 स्थित राजकीय महाविद्यालय में आयोजित अम्बाला डिविजन के दो दिवसीय सबसे बडे रोजगार मेले के उदघाटन अवसर पर युवाओं को सम्बोधित कर रहे थे। प्रदेश के अधिंकाश महाविद्यालयों में लड़कियों के लिए गुलाबी बसें शुरू की गई है। शीघ्र ही 150 बसें और शुरू की जाएगी ताकि सभी कालेजों में लडकियों को बेहतर आवागमन की सुविधाएं आसानी से मिल सके। इसके अलावा सरकारी बसों में एक ऐसा बटन लगाया जाएगा जिससे बसों की लोकेशन के बारे में आसानी से पता चल सकेगा।
रोजगार मेलों में युवाओं को उनकी काबलियत, योग्यता एवं ईच्छानुसार अलग अलग व्यवसायों में निजी व सरकारी क्षेत्र में रोजगार मुहैया करवाया जाता है और बेहतर पैकेज का भी आफर किया जाता है। इसलिए जिला एवं मण्डल स्तर पर इस तरह के रोजगार मेलों का आयोजन नियमित तौर पर अवश्य होना चाहिए। औद्योगिक एवं कौशल विकास मंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा एक हजार करोड़ रुपए की लागत से पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय की स्थापना की गई है। इस विश्वविद्यालय में कक्षा छठी से युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है ताकि युवा पढाई के साथ साथ अपनी रूची अनुसार हूनर भी सीख सखें।
शिक्षा ही मुनष्य को संवारने का कार्य करती है। संसार में लगभग सभी चीजों का आपस में बंटवारा किया जा सकता है लेकिन शिक्षा का बंटवारा नहीं किया जा सकता। इसलिए युवाओं को उच्च शिक्षा की ओर अग्रसर होना चाहिए। औद्योगिक मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में सरकार ने बिना खर्ची और पर्ची के युवाओं को रोजगार मुहैया करवाने की दिशा में पहल की है। युवाओं को पूरी ईमानदारी व योग्यता के आधार पर रोजगार दिए जा रहे है। सरकार ने पारदर्शिता से नौकरियां प्रदान कर प्रदेश व देश का इतिहास बदलने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि गत दिनों हुई एचसीएस की परीक्षा में जेबीटी का चयन होना बहुत ही गौरवान्वित कार्य है।
प्राचार्या डा. अर्चना मिश्रा ने कहा कि महाविद्यालय का सतत प्रयास है कि युवाओं को ज्यादा से ज्यादा प्लेंसमेंट हो और अधिक से अधिक रोजगार के अवसर मिलें। इसलिए हर वर्ष रोजगार मेलों का आयोजन किया जा रहा है। गत दो वर्षो के दौरान लगाए गए मेलों में 1500 से अधिक युवाओं को रोजगार दिलवाया गया है। इस वर्ष एक हजार युवाओं को रोजगार दिलाने का लक्ष्य रखा गया है। लगातार दो दिन तक चलने वाले इस मेलें में 55 से अधिक कम्पनियों के पदाधिकारी भाग ले रहे है। इस रोजगार मेंले में आयोजक गुरूसिमरन, रीटा शर्मा, सहित विभिन्न कम्पनियों के पदाधिकारियों ने भाग लिया।