प्रधानमंत्री के 70वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में हरियाणा योग परिषद का ’’प्राकृतिक चिकित्सा’’ पर दो दिवसीय वेबिनार संगोष्ठी का आयोजन

प्ंचकूला, 15 सितम्बर: प्रधानमंत्री के 70वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में 16 व 17 सितम्बर को हरियाणा योग परिषद की ओर से ’’प्राकृतिक चिकित्सा’’ पर दो दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन वेबिनार के माध्यम से किया जा रहा है। संगोष्ठी वेबिनार का उद्घाटन हरियाणा योग परिषद के चेयरमैन डा0 जयदीप आर्य करंेगे।

इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए हरियाणा योग परिषद के रजिस्ट्रार डा0 हरीश चन्द्र ने बताया कि इस वेबिनार में देशभर के प्रतिष्ठित प्राकृतिक चिकित्सक विशेषज्ञ भाग लेगें। जिसमें पूर्व निदेशक, सीसीआरवाईएन भारत सरकार डा0 बी0टी0सी0 मूर्ति,, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, योग ग्राम हरिद्वार, डा0 नागेंन्द्र नीरज, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, आरोग्य मंदिर गोरखपुर, डा0 बिमल कुमार मोदी, वरिष्ठ प्राकृतिक चिकित्सक, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आई0एन0ओ0, डा0 डी0एन0 शर्मा, वरिष्ठ प्राकृतिक चिकित्सक एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी पुणे डा0 जितेंद्र आर्य व, वरिष्ठ प्राकृतिक चिकित्सक, नई दिल्ली डा0 सलिला तिवारी मुख्य रूप से भाग लेगें।

डा0 हरीश चन्द्र ने बताया कि कोरोना काॅल में इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए हम सभी को प्राकृतिक साधनों का प्रयोग करना चाहिए। कोरोना महामारी से लड़ने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता की आवश्यकता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता को निरंतर बनाए रखने के लिए उचित खानपान का बहुत अधिक महत्व है। उन्होंने बताया कि शरीर के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए उचित और प्राकृतिक भोजन उतम है जिसमें सभी पोषक तत्व उचित मात्रा में हो।

रजिस्ट्रार ने बताया कि हरियाणा योग परिषद का मिशन यह है कि हरियाणा प्रांत में हर व्यक्ति स्वस्थ रहें और आनंदमय जीवन व्यतीत करें। इस सम्बन्ध में अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून के अवसर पर भी हरियाणा योग परिषद ने श्री कृष्णा आयुष विश्वविद्यालय व केंद्रीय विश्वविद्यालय हरियाणा के साथ संयुक्त रूप से ’’अंर्तराष्ट्रीय योग  संगोष्ठी’’ का आयोजन वेबिनार के माध्यम से किया था। जिसमें देश -विदेश के योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा से जुड़े विद्वानों ने अपने विचार जनता के साथ सांझा किए थे। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री के जन्म दिवस पर दो दिवसीय ’’प्राकृतिक चिकित्सा’’ पर आॅनलाइन वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने  हरियाणा प्रांत के लोगों व बच्चों से हरियाणा योग परिषद के आॅनलाइन फेसबुक पेज व यू-ट्यूब एकाउंट से जुड़कर प्राकृतिक चिकित्सकों के विचार सुनने की अपील की।

Leave a Reply