“फिल्मो में धर्म व धर्म से जुडी चीजों को अश्लील तरीके से प्रस्तुत करनेवालों के खिलाफ सरकार कार्यवाही करे।”: किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी माँ

मुंबई, नालासोपारा: मुंबई की सुप्रसिद्ध प्रवचन कर्ता व भागवत कथा वाचक निर्मोही अखाड़ा की किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी माँ ने नालासोपारा में एक प्रवचन कार्यक्रम किया, जोकि सफलता पूर्वक संपन्न हुआ। इस अवसर पर फिल्मों में अश्लील तरीके से धार्मिक व भक्ति गीत, रामलीला व धार्मिक के शूटिंग व प्रचार पर प्रतिबन्ध लगाने का आग्रह सरकार से किया, खासकर के अभी हाल में रिलीज़ हुए सारेगामा के म्यूजिक विडिओ ‘मधुबन’ के ‘राधिका नाची .’ को बैन किया जाय। नए साल में जो पार्टी होटल व अन्य जगहों पर होती है और युवा पीढ़ी को अश्लील डांस, डीजे व शराब परोसा जाता है, उससे युवा पीढ़ी गलत रास्ते पर जाती है। इसके बदले धार्मिक कार्यक्रम, भजन संध्या ,सामाजिक कार्यक्रम इत्यादि होने चाहिए। जिसे लोगों का धर्म के प्रति लगाव बढे और समाज में अपराध कम हो। 

इस अवसर पर निर्मोही अखाड़ा की किन्नर महामंडलेश्वर स्वामी हिमांगी सखी माँ कहती है,”मधुबन में राधिका नाची थी जैसे धार्मिक व भक्ति गीत को अश्लील तरीके से प्रस्तुत करने वाले गायक, कलाकार और सारेगामा कार्यक्रम के खिलाफ सरकार सख्त कार्यवाही करे, जिससे फिल्म इंडस्ट्री का कोई भी व्यक्त धर्म,हिन्दू संस्कृति व धर्म से जुड़े किसी भी चीजों का मज़ाक नहीं उड़ा सके। फिल्म कोहिनूर में गायक मोहम्मद रफ़ी ने यह गाना गाया था और फिल्म निर्माता व निर्देशक ने किस तरह सुंदर तरीके से पिक्चराइज़ किया था , वह देखने लायक था। लेकिन आज के नए जनरेशन के लोग उसे आश्लील तरीके से प्रस्तुत करके टीआरपी व नाम कमाने में लगे है। फिल्मो में धर्म व धर्म से जुडी चीजों को अश्लील तरीके से प्रस्तुत करनेवालों के खिलाफ सरकार कार्यवाही करे। ”

नए साल का आगमन होने वाला है, उसके लिए देश विदेश के सभी लोगों को हिमांगी सखी ने शुभकामनाएँ और कहा,” नए साल में सभी जगहों पार्टी होती है और युवा पीढ़ी को अश्लील डांस, डीजे व शराब परोसा जाता है, उससे युवा पीढ़ी गलत रास्ते पर जाती है। इसके बदले देशभर में नए साल के अवसर पर धार्मिक कार्यक्रम होने चाहिए , जिससे लोग परिवार के साथ जाए और लोगों में धर्म के प्रति झुकाव बढे। जिससे देशभर में हो रहे अपराध कम हो। “