बांसुरी की मधुर धुनों से सराबोर हुई केन्द्र की 268वीं मासिक बैठक

चंडीगढ़: प्र्राचीन कला केन्द्र द्वारा आयोजित 268वीं मासिक बैठक का आयोजन आज यहां केन्द्र के एम.एल.कौसर सभागार में सायं 6 30 बजे से किया गया । जिसमें पटियाला से आए मशहूर बांसुरी वादक उस्ताद मुजतबा हुसैन ने अपने बांसुरी वादन से कला प्रेमियों को मंत्रमुग्ध कर दिया । इस कार्यक्रम में जस्टिस जितेंद्र चैहान,डाॅ.सुधीर बतीश,पीसीएस,श्री आर.के. वर्मा कमांडेंट,आईटी बीपी,चंडीगढ़,डाॅ.मनोज टिपोटिया,सीआरआरआईडी,इंजीनियर जसविंदर सिंह ने बतौर विशेष अतिथि शिरकत की ।
पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला के डांस डिर्पाटमैंट में कार्यरत उस्ताद मुजताब हुसैन ने संगीत की शिक्षा उस्ताद फरजाद अली से प्राप्त की । प्रारंभिक शिक्षा उन्होंने अपने पिता उस्ताद पीर बक्श से प्राप्त की । उन्होंने बहुत से प्रसिद्ध कलाकारों के साथ बतौर संगत कलाकार भी प्रस्तुतियां दी हैं । प्राचीन कला केन्द्र से संगीत भास्कर की डिग्री प्राप्त मुजतबा एक मंझे हुए बांसुरी वादक हैं।
आज के कार्यक्रम की शुरूआत जिसमें राग पूरीया कल्याण में निबद्ध विलम्बित एवं रूपक गतें मध्य एवं द्रुत तीन ताल में ं पेश करके खूब तालियां बटोरी । कार्यक्रम के अगले भाग में राग काफी में निबद्ध होली पेश की । कार्यक्रम का समापन इन्होंने राग मिश्र पीलू में निबद्ध दादरा से किया ।
इनके साथ मशहूर तबला वादक उस्ताद रफूदीन साबरी ने बखूबी संगत की। कार्यक्रम के समापन पर केन्द्र की रजिस्ट्ार डाॅ.शोभा कौसर एवं सचिव श्री सजल कौसर ने कलाकारों को सम्मानित किया ।