‘मीट द प्रैस‘ पंचकूला जिला प्रशासन के साथ

पंचकूला – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने कहा कि मीडिया के माध्यम से ही सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों को जनता तक पहुंचाया जा सकता है। उपायुक्त आज यहा लघु सचिवालय के समिति कक्ष में ‘मीट द प्रैस‘ कार्यक्रम में छायाकारों व पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे।
 उन्होंने कहा कि मीडिया और प्रशासन के टीम भावना से कार्य करने से जनता की समस्याओ का हल जल्दी होता है। लोकतंत्र के चैथे स्तंभ की निगरानी से पारदर्शिता को बढ़ावा मिलता है। लोगो को समाचार पत्रों के माध्यम से अपनी समस्याएं बताने का अवसर प्राप्त होता है और साथ ही समाचार पत्र प्रशासन के लिए दर्पण का भी कार्य करते है। उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों के माध्यम से इस जिले की 6.50 लाख जनता की समस्याओं, जरूरतों और संवेदनाओं का पता चलता है। उन्होंने कहा कि हम सभी को पंचकूला जिले की प्रगति और क्षेत्र की समस्याओ के समाधान के लिए प्रशासन मीडिया के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करना है।
उन्होंने कहा कि वर्ष 2020 में जिला प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्र के विकास को गति देने दिशा से 46 नोडल अधिकारियों की नियुक्ती की है। ये अधिकारी गांवो की समस्याओं का अध्यन कर उनकी रिर्पोट उपायुक्त व संबधीत अधिकारी को सोंपेगे व उस पर होने वाले कार्य के ऊपर नियंत्रण निगरानी बनाए रखेगे। निश्चित अवधि कार्य खत्म करने की  जिम्मेवारी इन्हीं नोडल अधिकारियों की रहेगी। हमारे मीडिया के साथी विकास की इन योजनाओं के क्रियान्वयन पर प्रशासन को अपना सहयोग करें। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र में नगर निगम के माध्यम से अवारा कुत्तों समेत अन्य जानवरों पर नियंत्रण करने, सोलिड वेस्ट मेंनेजमैंट, पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण की अन्य अनुशंसाओं को लागू करने, रोजगार के नए अवसरों को उपल्बध करवाने के कार्यक्रम प्राथमिकता पर रहेगें। उन्होने कहा कि रोेजगार के लिए हर तिमाही पर जाॅब फेयर आयोजित किए जाएगे जिसमें राज्य से बाहर की कम्पनियों को भी आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस माह आयोजित किए गए जाॅब फेयर में 25 युवाओं को नियुक्ती पत्र मिले इसके दायरे को और अधिक विस्तृत किया जाएगा। मोरनी-पिंजौर क्षेत्र के गांवों में रोजगार के लिए स्वयं सहायता समूहों ने ग्रामीण आजीविका क्षेत्र में रोेजगार के नए आयाम उत्पन्न किए है। जिले में 1003 स्वय सहायता समूह कार्य कर रहे है। इन्हें और अधिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा तथा इनका दायरा भी बढ़ाया जाएगा। हमारा उद्देश्य ग्रामीण बेरोजगारी को समाप्त करना तथा उन्हें उनके ही गांव में रोजगार प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि पब्लिक सर्विसेज को सूचना प्रोद्योगिकी के माध्यम से काॅमन सर्विस सेंटर के माध्यम से बेहतर बनाया गया है नव वर्ष में इन काॅमन सर्विस सेंटर की संख्या ओर अधिक बढ़ाई जाएगी। उन्होंने कहा कि पिंजौर व कालका के एतिहासिक स्थलों का सौंदर्यकरण किया जाएगा। बावड़ियों का पूनरोद्धार किया जाएगा। गांवो मे मछली पालन के द्वारा जोहड़ों को नया रूप प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कालका में काली माता मंदिर क्षेत्र में पार्किग की समस्याओं के लिए ई-भूमि पोर्टल के माध्यम से जमीन के लिए निविदाऐं आमत्रित की जा रही है। चण्डीगढ़ बद्दी रेलवे लाइन के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि 28 कि.मी. के स्ट्रैच का पथ रेलवे द्वारा परिवर्तित किए जाने से इसमें समय लग रहा है। उन्होंने कहा कि अवैध मांईनिग को रोकने के लिए लगातार छापेमारी तथा  इसमें शामिल वाहनों पर शोरूम कीमत की 50 प्रतिशत पेंनेल्टी लगाने से अवैध मांइनिग की रोकथाम में काफी सुधार आया है।
कार्यक्रम में अवैध हुक्का बारांे को बंद करने के सवाल पर चर्चा करते हुए पुलिस उपायुक्त कमलदीप गोयल ने कहा कि हुक्का बारों को पूरी तरह से बंद किया जाएगा। इसके लिए लगातार छापेमारी भी की जा रही हैं। इस मामले में 3 एफआईआर भी दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि हुक्का बारों पर पुरी तरह से नियंत्रण करने के लिए एसडीएम, एसीपी, फुड आॅफिसर, ड्रग कंन्ट्रोलर की समिति द्वारा छापेमारी की जा रही है और आगे भी कई जाती रहेगी।