विश्व आयुर्वेद व विद्यार्थी परिषद ने कोरोना योद्धाओं को बांटी आयुर्वेदिक औषधी

पंचकूला, 23 मई- कोरोना की लड़ाई में जिला के किसी न किसी संस्था एवं सामाजिक संगठनों का अहम रोल रहा है। एक ओर जहां गरीब परिवारों को भोजन एवं सूखा राशन बांटने में भूमिका निभाई। वही दूसरी ओर लोगों ने सेनीटाईजर, मास्क आदि बांटकर लोगों को इस महामारी से बचाने का कार्य किया। इसके अलावा कई संगठनों ने जिला के लोगों को कोरोना से बचने के लिए सामाजिक दूरी का पालन करने और बार बार साबुन से हाथ धोने के प्रेरित किया।
विश्व आयुर्वेद व विद्यार्थी परिषद की जिला स्तरीय ईकाई ने कोरोना महामारी के चलते विभिन्न कोरोना योद्धा, जैसे प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस कर्मचारी, सफाई कर्मचारी, ड्राईवर इत्यादि अपनी ड्यूटी मुस्तैदी से निभाते हुए नागरिकों की जान की सुरक्षा करते हुए ढाल बने हुए इन योद्वाओं को ओर मजबूती से कार्य करने ओर इनकी इम्युनिटी पावर बढाने के लिए आयुर्वेद औषधियों का निशुल्क वितरण किया। इसी ढाल ओर को मजबूत करने के लिए विश्व आयुर्वेद परिषद एवं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने पंचकूला नेें ऐसे 4000 कोरोना योद्धाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने हेतु न केवल आयुर्वेदिक दवाइयों का वितरण किया बल्कि उनका मनोबल बढाया। उनका यह कार्य बड़ा ही सराहनीय रहा और जिला के लोगों ही नहीं कोरोना योद्वाओं ने उनकी मुक्त कंठ से प्रंशसा की।
लगातार दस दिन तक चले इस अभियान की शुरुआत लघु सचिवालय से की गई। सर्वप्रथम डिप्टी कमिश्नर, एडिशनल डिप्टी कमिश्नर, कमिश्नर ऑफ पुलिस, डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस, एसडीएम व कार्यालय में कार्यरत सभी कर्मचारियों को षडंगपानीय व संशमनी वटी का वितरण किया गया ओर उन्हें इसके लेने के लिए प्रेरित एवं जागरूक किया। प्रत्येक व्यक्ति को 7 दिन की आयुवेर्दिक औषधियां निशुल्क वितरित की गई।
टीम के सदस्यों ने पूरे पंचकूला जिले के प्रत्येक पुलिस नाके पर जाकर स्वयं यह दवाइयां वितरित की। इसी प्रकार से सफाई कर्मचारियों को भी हर सेक्टर में जाकर व्यक्तिगत रूप से इन दवाइयों का वितरण किया गया। चिकित्सकों की टीमों ने इन आयुवेर्दिक दवाईयों को लेने की सरल विधि और उसके फायदे समझाए गए।
यह कार्य विश्व आयुर्वेद परिषद की प्रांतीय सह सचिव डॉ अनु गोयल, सदस्य डॉक्टर चित्रा शरण, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला प्रमुख सुशील पराशर व अध्यापिका श्रीमती वंदना शर्मा ने मिलकर क्रियान्वित किया।

Leave a Reply