विश्व के कई देशों ने भारतीय वैक्सीन का माना लौहा और बताया जन जीवन के लिये रामबाण: रतनलाल कटारिया

पंचकूला, 29 अप्रैल: केंद्रीय जल शक्ति और सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया व गेल की निदेशक बंतो कटारिया ने आज एमडीसी सेक्टर-4 पंचकूला की सिविल डिस्पेंसरी में कोविड-19 टीकाकरण को लेकर औचक निरीक्षण किया और वहां मौजूद टीकाकरण के लिये आये हुये लोगों से भी बात की।

वरिष्ठ नागरिकों, जिन्होंने टीकाकरण करवाया था, उनसे श्री कटारिया ने डिस्पेंसरी में टीकाकरण की सुविधाओं के बारे में पूछा। आपको कोई परेशानी तो नहीं हुई। वरिष्ठ नागरिक मोहन सिंह ने बताया कि सिविल डिस्पेंसरी में टीकाकरण का सिस्टम अच्छा है। यहां का स्टाफ भी पूरा सहयोग दे रहा है। केंद्रीय राज्य मंत्री उनके जवाब से संतुष्ट नजर आये। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारतवासियों की एक एक जान बचाने के लिये दिनरात मेहनत कर रहे है और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी आज यमुनानगर और अंबाला के नागरिक अस्पतालों में टीकाकरण, आॅक्सीजन और अन्य सुविधाओं की स्वयं जाकर माॅनिटरिंग कर रहे है।

विश्व के कई देशों ने भारतीय वैक्सीन का लौहा माना हैं और इसको पूर्ण रूप से जन जीवन के लिये रामबाण बताया है। श्री कटारिया ने बताया कि अमेरिका के प्रधान चिकित्सक ने कहा कि भारत को एक करोड़ वैक्सीन देने की दिशा में हम काम कर रहे है। उन्होंने आगे कहा कि जल्द ही अमेरिका की ये वैक्सीन केेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के पास आने की संभावना है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल भी जापान, आस्ट्रेलिया, रशिया जैसे कई देशों के संपर्क में है। भारत में वेंटिलेटर, वैक्सीन की सप्लाई ना टूटे इस दिशा में इन देशों से लगातार प्रयास कर ये चीजें जुटाने का काम कर रहे है।

इस अवसर पर जिला भाजपा प्रधान अजय शर्मा, जिला महामंत्री वीरेंद्र राणा, जिला किसान मोर्चा के अध्यक्ष सोनू, जिला महामंत्री परमजीत कौर, बीजेपी के मीडिया प्रभारी नवीन गर्ग सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।