व्यक्तिगत स्तर पर कोविड दिशा निर्देशों की पालना और पूर्ण कोविड टीकाकरण से हम कोरोना को हरा सकते हैं: विधानसभा अध्यक्ष

पंचकूला, 26 दिसंबर: हरियाणा के विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा है कि व्यक्तिगत स्तर पर कोविड दिशा निर्देशों की पालना और पूर्ण कोविड टीकाकरण करके हम कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को हरा सकते हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देशों की पालना करें और कोविड वैक्सीन की दोनो डोज अवश्य लगवाएं।  

सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देशों की पालना और कोविड वैक्सीन की दोनो डोज लगवाने की लोगों से करी अपील  

श्री गुप्ता ने कहा राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में ‘महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा’ की अवधि को 5 जनवरी तक बढ़ाया गया है । इसके तहत रात्रि 11 बजे से सुबह पाँच बजे तक आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा। श्री गुप्ता ने जिलावासियों से आग्रह किया है कि वे इन दिशानिर्देशों की कड़ाई से पालना करे और कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई में राज्य सरकार व जिला प्रशासन का सहयोग करे । उन्होंने कहा कि कोविड अभी पूरी तरह से खतम नहीं हुआ है ।

वर्ष 2014 के बाद पंचकूला में स्वास्थय सेवाओं में हुआ अभूतपूर्व सुधार: गुप्ता 

श्री गुप्ता ने कहा कि देश में हाल ही में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के कुछ मामले सामने आए हैं । उन्होंने कहा कि लोगों को पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है बल्कि ज़रूरत है तो केवल एहतियात बरतने की । उन्होंने लोगों से अपील की कि हाथों को बार-बार धोते रहे और बाहर जाते समय मॉस्क और सेनिटाइजर का प्रयोग अवश्य करें। इसके साथ-साथ भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचे और जाना आवश्यक हो तो सामाजिक दूरी की पालना अवश्य करें।

श्री गुप्ता ने कहा कि कोविड से निपटने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह से तैयार है । जिला स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाओं को और अधिक सुदृढ़ किया गया है। उन्होंने कहा पंचकूला में भी स्वास्थ्य सेवाओं में अभूतपूर्व सुधार हुआ है वर्ष 2014 में नगरिक अस्पताल सेक्टर 6 में केवल 100 बेड की क्षमता थी जो आज बढ़कर 500 हो गई है। इसके अलावा सिटी स्कैन, डायलेसिस और कैथ लैब जैसे सुविधाएं की व्यवस्था भी की गई है।

श्री गुप्ता ने कहा कि आज प्रदेश ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भरता की तरफ़ तेज़ी से बढ़ रहा है। नए ऑक्सीजन प्लांट लगाने के साथ-साथ प्रदेश सरकार ऑक्सी वन की अवधारणा पर भी काम कर रही है जिसके तहत प्रदेश के हर ज़िले में ऑक्सीवन स्थापित किया जा रहा है। पंचकूला में भी सौ एकड़ भूमि पर आक्सीवन की स्थापना की जा रही है । आक्सीवन स्थापित होने से पंचकूला के लोगों को प्राकृतिक ऑक्सिजन पूर्ण मात्रा में मिलेगी, जिससे उनके स्वास्थ्य में वृद्धि होगी। श्री गुप्ता ने पर्यावरण संरक्षण पर बल देते हुए कहा कि हर व्यक्ति कम से कम एक पेड़ अवश्य लगाए। इसके साथ-साथ उनकी सुरक्षा और देख रेख भी सुनिश्चित करे । इससे शहर हराभरा तो होगा ही साथ ही वातावरण में ऑक्सिजन की मात्रा में बढ़ेगी।