शिक्षण संस्थानों को दंगाइयों का अड्डा नहीं बनने देगीं अभाविप: पवन दुबे

चंडीगढ़/ 07 जनवरी – जे एन यू में हुई हिंसा के लिए वामपंथी विचारधारा के छात्र संगठनों को जिम्मेदार मानते हुए आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने  पंचकूला के सेक्टर एक में स्थित राजकीय महाविद्यालय में वामपंथ का पुतला जलाकर रोष प्रदर्शन किया l अभाविप के जिला सयोजक पवन दुबे ने कार्यकर्ताओ समेत कालेज के गेट पर इकट्ठा होकर प्रदर्शन किया और कहा कि  अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् देश के शिक्षण संस्थानों को दंगाइयों का अड्डा नहीं बनने देगीं l अभाविप जे एन यू में हुई हिंसा की कड़ी निंदा करती है और जल्द से जल्द दोषियों पर कार्यवाई की मांग करती है l

दुबे ने बताया कि  रविवार शाम को दिल्ली के जवाहर लाल विश्वविद्यालय में कुछ नकाबपोश गुंडों द्वारा कैम्पस में घुसकर हिंसक घटनाओ को अंजाम दिया गया, जो की एक शिक्षण संस्थान की गरिमा को तार- तार करने वाला कृत्य था l फ़ीस वृद्धि को लेकर चल रहे आन्दोलन के समाप्त होने के बाद भी एक वर्ग कैम्पस में आन्दोलनरत है, जो की वामपंथी विचारधारा से जुड़ा छात्र संगठन है l अपने आकाओं के राजनितिक हितो के लिए कैम्पस में हिंसात्मक घटनाओ को अंजाम दिया जा रहा है l अभाविप के तीस के करीब कार्यकर्ताओं को चोटे आई है और दर्जनों अन्य छात्र भी घायल है l

अभाविप के प्रदर्शन के दौरान प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य बलराम भारद्वाज, पंचकूला कालेज इकाई के सहमंत्री तारिश, राहुल, गुलशन, रामप्रसाद, सुरजीत, शिवम्, शेखर पांडे, अभिषेक राय, ओमप्रकाश समेत दर्जनों कार्यकर्त्ता मौजूद थे l