श्री नानकसर गुरुद्वारा साहिब में 44वां सालाना गुरमति समागम सम्पन्न

चंडीगढ़: सैक्टर 28 स्थित नानकसर गुरुद्वारा साहिब में 44वां सालाना गुरमति समागम रविवार को सादगी व सम्मानपूर्वक तरीके सम्पन्न हो गया। गुरुद्वारा साहिब के सेवादार मास्टर गुरचरन सिंह ने बताया कि हर साल गुरुद्वारा साहिब में संतों के सम्मान में गुरमति समागम का आयोजन किया जाता है। बाबा गुरदेव सिंह के परम आशीर्वाद व सानिध्य से इस बार का सम्मेलन संत बाबा साधु सिंह जी को समर्पित था। इस समागम में धार्मिक दीवान सजाया गया।विभिन्न रागी जत्थों ने संगतों को कीर्तन दरबान सजा निहाल किया व अखंड पाठ का भोग डाला गया। इस मौके संगतों को गुरु का अटूट लंगर भी वितरित किया गया।
उल्लेखनीय  है कि संत बाबा साधु सिंह जी के सम्मान में यह 15वां समागम था। समागम में पंजाब के विभिन्न गुरुद्वारों से कीर्तनी जत्थों ने शिरकत की और विशेष तौर पर श्रीआनंदपुर साहिब से पहुंचे हेड पाठी सुखजिंदर सिंह-सिंह साहिब ने संगतों को कीर्तन से निहाल किया।
समागम में कुलदीप सिंह भिंडर, हरनेक सिंह सेखों, करनैल सिंह, जयबीर सिंह, दर्शन सिंह, जसबीर सिंह जगराओं व गाँव दरिया के धर्मेन्द्र सैणी ने सेवा निभाई।
वहीँ इस अवसर पर रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया। जिसमें संगतों ने 57 यूनिट रक्तदान किया। इसके साथ एनजीओ जागरूकता ने आयुर्वेदिक कैंप लगाया गया। जिसमें रोगियों को निशुल्क दवाइयां वितरित की गईं और लोगों को नशों के खिलाफ अपना योगदान देने की अपील की। इसकेे अलावा ब्लड टैस्ट भी किए गए।
इस अवसर बाबा गुरदेव सिंह ने संगतों को गुरुघर के साथ जुडने और सरबत का भला करने के लिए प्रेरित किया।