स्वराज इंडिया हरियाणा ने प्रदेश के 704 गांवो से शराब ठेका बंद कराने संबंधी प्रस्ताव के माध्यम से आई अर्जियों का किया स्वागत

चण्डीगढ़ – योगेंद्र यादव की अगुवाई वाली स्वराज इंडिया ने 15 जनवरी तक हरियाणा के गांव से शराब के ठेके हटवाने संबंधी ग्राम सभा के प्रस्ताव के माध्यम से आई अर्जियों का स्वागत किया है। स्वराज इंडिया ने हरियाणा सरकार से अपील की है सरकार के पास आई अर्जियों को संज्ञान में लेते हुए तुरंत प्रभाव से संबंधित गाँव से ठेके हटाए जाए और भविष्य में भी शराब ठेके खोलने की अनुमति ना दी जाए l
*भविष्य में हरियाणा प्रदेश के 30 फीसदी गांव में  शराब ठेका बंदी  अभियान के माध्यम से जागरूकता फैलाने एवं शराब ठेके हटाने हेतू प्रस्ताव पास करवाने का निर्धारित किया लक्ष्य*
स्वराज इंडिया पार्टी के हरियाणा अध्यक्ष राजीव गोदारा ने कहा कि हरियाणा के कुल गावों का 10 परसेंट ही सही लेकिन हरियाणा की जनता ने गांव से शराब ठेके हटवाने के लिए शुरूआत कर दी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा विधानसभा चुनाव के अंदर गांव से शराब ठेके हटाने एवं नशे के खिलाफ जागरूकता संबंधी अभियान को स्वराज इंडिया ने प्रमुखता से उठाया था और मुख्य एजेंडे के रूप में लिया था। हरियाणा में बढ़ रहे नशे के ऊपर स्वराज इंडिया ने समय-समय पर चिंता व्यक्त करते हुए सरकार के दोहरे रवैए पर सवाल उठाए थे l आज यह उसी का परिणाम है कि हरियाणा के अंदर शराब ठेके हटवाने की शुरुआत हो चुकी है।
*हरियाणा विधानसभा चुनाव के अंदर स्वराज इंडिया के शराब और बढ़ते नशे के ख़िलाफ़ अपनाए गए चुनावी एजेंडे का हो रहा है असर*
स्वराज इंडिया पार्टी के हरियाणा महासचिव दीपक लाम्बा ने कहा कि भविष्य में स्वराज इंडिया ने हरियाणा के 30 परसेंट गांव से शराब ठेके हटवाने हेतु प्रस्ताव पारित करवाने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने सरकार से अपील की है कि नशे विरोधी कानून को सख्त बनाया जाए और हरियाणा सरकार शराब ठेका बंदी के अलावा अन्य नशों की रोकथाम हेतु जल्द से जल्द अपना रुख स्पष्ट करें। उन्होंने बताया कि स्वराज इंडिया की जिला इकाइयां इस मुहिम को भविष्य में भी मुख्य एजेंडे के रूप में लेंगे और हरियाणा के गांव – गांव तक इस अभियान को लेकर जाएंगे और हरियाणा को नशा मुक्त प्रदेश बनाने में अहम भूमिका निभाएंगे।
*शराब के साथ साथ अन्य सूखे नशे के खिलाफ भी रुख स्पष्ट करे हरियाणा सरकार* 
उन्होंने बताया कि स्वराज इंडिया की एक राज्य समिति एडवोकेट कुसुम यादव और रोहित आर्य के नेतृत्व में प्रदेश भर में इस मुहिम में लगी थी। रेवाड़ी जिले से लगभग 85 गांव से शराब ठेके हटवाने हेतु प्रस्ताव आए हैं जिनमे स्वराज इंडिया का महत्वपूर्ण योगदान रहा हैl

Leave a Reply