हम सबको मिलकर कोरोना को हराना है और भारत से भगाना है: गुप्ता

पंचकूला, 19 अप्रैल: हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए लोगों से आह्वान किया है कि वे सरकार द्वारा समय समय पर जारी दिशा निर्देशों का पालन करें और कोविड-19 को हराने में सरकार की मदद करें। उन्होंने कहा कि लोगों को कोविड-19 के प्रति जागरूक करने के लिये एक विशेष अभियान चलाने की जरूरत हैं ताकि लोगों को कोरोना से बचाव के लिये आवश्यक निवारक उपाय जैसे दो गज की दूरी, मास्क व सेनिटाईजर का उपयोग करने के लिये प्रेरित किया जा सके।

लोगों से पेनिक न होने की कि अपील।

श्री गुप्ता आज लघु सचिवालय के सभागार में जिला में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिये किये जा रहे उपायों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उनके साथ लोक निर्माण (भवन एवं सड़के) विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक निगम भी उपस्थित थे।

हरियाणा सरकार ने कोरोना से निपटने के लिये किये है व्यापक प्रबंध।

श्री गुप्ता ने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार द्वारा एक नीति बनाई गई हैं, जिसके तहत हर जिले में एक एक उच्च आईएएस अधिकारी प्रतिदिन कोरोना के प्रसार को रोकने के लिये किये जा रहे कार्यों की समीक्षा करेंगे। इसी कड़ी में आज इस बैठक का आयोजन किया गया हैं।

श्री गुप्ता ने कहा कि कोविड-19 का प्रभाव इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में कहीं अधिक है लेकिन सरकार द्वारा कोविड-19 से निपटने के लिये पर्याप्त संख्या में कोविड वैक्सीन, कोविड अस्पताल, वेंटिलेटर, बैड सहित अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की व्यवस्था की गई है। इसलिये लोगों को पेनिक होने की आवश्यकता नहीं है।

उन्होंने बैठक में पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे मास्क को लेकर सख्ती दिखायें और मास्क न पहनने वालों के चालान करें। उन्होंने कहा कि इससे पहले लोगों को मास्क पहनने के लिये जागरूक किया जाये। उन्होंने कहा कि मास्क पहनना ही एक मात्र विकल्प है, जिससे कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है। उन्होंने पुलिस को यह भी निर्देश दिये कि प्रशासन द्वारा लोगों के इक्ट्ठा होने की संख्या को लेकर जारी तय सीमा को सख्ती से लागू करें। इसके अलावा पुलिस यह भी सुनिश्चित करें कि रात्रि कफर््यू के दौरान रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक होटल, रेस्टोरेंट आदि गतिविधियां पूर्ण रूप से बंद रहे। उन्होंने कहा कि इसके साथ साथ यह भी सुनिश्चित किया जाये कि होम आईसोलेशन में रह रहे कोरोना पाॅजिटीव लोग होम आईसोलेशन के नियमों का पालन कर रहे है।

श्री गुप्ता ने कहा कि जहां-जहां कोरोना के अधिक सक्रिय मामलों की संभावना है वहां-वहां टेस्टिंग के लिये स्पेशल कैंपस का आयोजन किया जाये। उन्होंने कहा कि शहरों के साथ साथ गांवों में भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता हं।ैं उन्होंने विशेषतौर पर कालका व पिंजौर में टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिये।

बैठक के दौरान श्री गुप्ता ने डाॅक्टरर्स और अन्य स्वास्थ्य कर्मचारियों का कोरोना के विरूद्ध सरकार की इस जंग में अपना अमूल्य योगदान देने के लिये धन्यवाद किया और आह्वान किया कि हम सबको मिलकर कोरोना को हराना है और भारत से भगाना है।

इस अवसर पर उपायुक्त मुकुल कुमार, डीएमईआर के निदेशक डाॅ. शालीन, पुलिस उपायुक्त मोहित हांडा, अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा, एसडीएम पंचकूला रिचा राठी, कालका राकेश संधु, नगर निगम आयुक्त आर के सिंह, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त संयम गर्ग, नगराधीश सिमरनजीत कौर, ईओ एचएसवीपी ममता शर्मा, सिविल सर्जन जसजीत कौर और अन्य विभागों के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।