हरियाणा के किसानों की हालत बहुत खस्ता है  और सरकार उनकी ओर कतई ध्यान नहीं दे रही: सुशील गुप्ता  

पंचकूला, 23 मई: आम आदमी पार्टी हरियाणा के संयोजक एवं दिल्ली से राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता का कहना है कि हरियाणा के किसानों की हालत बहुत खस्ता है और सरकार उनकी ओर कतई ध्यान नहीं दे रही है। जिसके चलते प्रदेश का किसान एक बार फिर आर्थिक संकट से जूझ रहा है ।

20 लाख करोड़ रुपए का जो पैकेज घोषित किया है उसका सीधा लाभ किसान को नहीं मिल रहा है।

आज यहां जारी एक बयान में सुशील गुप्ता ने कहा कि केंद्र की सरकार ने जो 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज घोषित किया है उसका सीधा लाभ किसान को नहीं मिल रहा है । इस पैकेज में किसान को जो कर्ज देने की बात कही गई है उसकी अधिसूचना अभी तक जारी नहीं की गई है ।  बैंक किसान को कर्ज देने से मना कर रहे हैं क्योंकि उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है । उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसान जो फल फूल सब्जियां एवं टमाटर इत्यादि उगाते हैं उन्हें वे भाव नहीं मिल रहे जो उनकी लागत को पूरा कर सकें । उन्होंने कहा कि इससे तो अच्छा होता कि सरकार ऐसी कोई योजना बनाती की किसान के खाते में सीधे पैसे जाते ताकि वह अपना और अपने परिवार का पालन पोषण कर पाता ।

उन्होंने कहा कि आज हालात यह है कि राज्य का किसान भुखमरी की कगार पर पहुंच गया है क्योंकि ना तो उसे उसकी गेहूं की उपज का सही दाम मिल रहा है और जिस दाम पर उसकी उपज की बिक्री हुई है, उसका आज तक उसे भुगतान नहीं हो पाया है ।यही हाल प्रदेश के फल एवं सब्जी उगाने वाले किसान का भी है । उसे भी अपनी उपज का पूरा दाम नहीं मिल पा रहा है । उन्होंने कहा कि प्रदेश में आज किसान को 1 से ₹3 किलो टमाटर का भाव मिल रहा है। जबकि उसकी खुद की लागत 10 से ₹12 के बीच में है । इसी के चलते किसान अपने टमाटर एवं अन्य सब्जियां सड़कों या खेतों के बीच में ही नष्ट करने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि  यही हाल शिमला मिर्च एवं अन्य सब्जियों के मामले में भी है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि इन किसानों को उनकी फसलों का उचित मुआवजा दिया जाए अन्यथा प्रदेश का किसान इस आपदा की घड़ी में टूट जाएगा । ऐसे में सरकार का यह दायित्व बनता है इन किसानों का ध्यान करें ।

——-

योगेश्वर शर्मा
सचिव
आम आदमी पार्टी हरियाणा
99888 89968

Leave a Reply