हरियाणा के लोगों से स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का आह्वान

चंडीगढ़, 09 जनवरी: हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने आज राज्य के लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि ‘नो मास्क- नो सर्विस’ को अपनाएं ताकि कोरोना जैसी महामारी को हराया जा सके। उन्होंने प्रदेशवासियों से कहा कि कोरोना जैसी महामारी को हराने के लिए हम सभी को कोविड नियमों/प्रोटोकॉल का निर्वहन करना होगा।

कोरोना जैसी महामारी को हराने के लिए कोविड नियमों/प्रोटोकॉल का निर्वहन करें प्रदेशवासी: विज

श्री विज ने आज एक ट्वीट करके कहा कि “हरियाणा के माननीय लोगों से विनम्र अनुरोध है कि कोरोना को हराने के लिए “नो मास्क-नो सर्विस” की नीति अपनाएं।

कोविड वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से जारी,अब तक 3 करोड़ 67 लाख से अधिक वैक्सीन लोगों को लगाई: विज

उन्होंने कहा कि राज्य में कोविड वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से जारी है और अब तक 3 करोड़ 67 लाख से अधिक वैक्सीन लोगों को लगाई जा चुकी है जिसमें से पहली डोज़ 2 करोड़ 14 लाख 20 हज़ार से अधिक और दूसरी डोज़ 1 करोड़ 52 लाख 82 हज़ार से अधिक वैक्सीन लोगों को लगाई गई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में 13937 कोविड के मामले सक्रिय है जिसमें से 10324 होम आइसोलेशन में है। इसके अलावा, ओमिक्रोन के केवल 23 मामले ऐक्टिव है जबकि ओमिक्रोन के 100 मरीज़ को डिस्चार्ज कर दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण हालांकि तेजी से बढ़ रहा है, मगर अभी अस्पतालों में संक्रमित मरीजो की ज्यादा संख्या नहीं है।

विज अब देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वयं स्वास्थ्य सेवाओं का ले रहे हैं जायजा

उल्लेखनीय है कि श्री विज अब देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वयं स्वास्थ्य सेवाओं का जायजा ले रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने पिछले दिनों पंचकूला के सेक्टर-6 स्थित नागरिक अस्पताल में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का जायजा लिया और स्वयं चलवा कर देखा। ऐसे ही, उन्होंने गत माह फतेहाबाद में भी जाकर नागरिक अस्पताल में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट, वेंटिलेटर इत्यादि स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली और उनके संचालन संबंधी आवश्यक दिशानिर्देश उपस्थित अधिकारियों को दिए।

अब तक प्रदेश के सरकारी अस्पताल व मेडिकल कालेज में 84 पीएसए ऑक्सिजन प्लांट और 54 ऑक्सिजन प्लांट प्राइवेट अस्पतालों में स्थापित: विज

श्री विज के अनुसार कोरोना की पिछली लहर में ऑक्सीजन की दिक्कत हुई थी। इस वजह से सभी अस्पतालों में पीएसए ऑक्सिजन प्लांट लगाने का निर्णय लिया गया था। अब तक प्रदेश के सरकारी अस्पताल व मेडिकल कालेज में 84 पीएसए ऑक्सिजन प्लांट लगाए जा चुके हैं जबकि 54 ऑक्सिजन प्लांट प्राइवेट अस्पतालों में लगे हैं। ऑक्सीजन के मामले में हरियाणा आत्मनिर्भर हो रहा है। इसके अलावा, वेंटीलेटर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एवं अन्य उपकरण भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं।

प्रदेश में दूसरी जिनोम सीक्वेंसिंग लैब होगी स्थापित: विज

स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज के अनुसार पंचकूला में प्रदेश की दूसरी जिनोम सिक्वेंसिंग लैब स्थापित की जाएगी। पंचकूला में लैब बनने से प्रदेश के दोनों छोर पर एक-एक लैब होगी। इससे पहले रोहतक में एक लैब स्थापित की जा चुकी है।

Leave a Reply