Daily Archives: September 5, 2019

प्रौढ़ शिक्षा विभाग, चण्डीगढ़ की अधिकारी की प्रताड़ना से तंग कर्मचारियों ने किया धरना प्रदर्शन

चण्डीगढ़ : प्रौढ़ शिक्षा विभाग, चण्डीगढ़ की अधिकारी सहायक निदेशक अनीता लेखी पर इस विभाग में पिछले कई वर्षों से महज 700 व 1400 रुपये वेतन पर कार्यरत प्रेरक व नोडल कर्मियों ने प्रताड़ित करने…

27 सप्ताह की प्री-मैच्योर बच्ची को मैक्स हॉस्पिटल में मिली नई जिंदगी

चंडीगढ़, 5 सितंबर : जन्म के समय सिर्फ 550 ग्राम वजन व 27 सप्ताह की गर्भावस्था में पैदा हुई प्रीमैच्योर बच्ची सभी मुश्किलों से लड़ती हुई आखिर एक सामान्य व स्वस्थ जिंदगी प्राप्त करने में…

प्रजन भारत प्रोजेक्ट: उत्तर भारत के एन जी ओज के लिए कार्यशाला का आयोजन

चंडीगढ़: प्रजन भारत प्रोजेक्ट के तहत विभा वाणी, नेशनल  एसोसिएशन ऑफ साइकोलॉजिकल साइंस तथा सेफ हैंड्स रिहैबिलिटेशन सोसाइटी के आपसी सहयोग से हरियाणा,  पंजाब, चंडीगढ़, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के एनजीज के लिए नेशनल साइकोमेट्रिक एप्टीट्यूड क्वेस्ट पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज कैंपस में स्थित राजीव गांधी  नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ युथ डेवलपमेंट के सभागार में  50 से अधिक एन जी ओज ने हिस्सा लिया। डॉक्टर रोशन लाल ने बताया कि कार्यशाला के दौरान एप्टीट्यूड टेस्ट के बारे में चर्चा की गई और स्टेट कोऑर्डिनेटर को  ऑनलाइन होने वाले टेस्ट के बारे में जानकारी दी गई। यह टेस्ट कक्षा 06 से 12 तक उन बच्चों के लिए है जो कंप्यूटर सेवी होंगे, और अपने कैरियर के प्रति सजग है।डॉक्टर रोशन लाल के अनुसार ये टेस्ट गवर्मेन्ट स्कूल के बच्चों के लिए फ्री हैऔर प्राइवेट स्कूल के स्टूडेंट्स के लिए 250/-रुपये प्रति स्टूडेंट है।इस टेस्ट की रजिस्ट्रेशन 15 अगस्त से शुरू हो चुकी है और  30 अक्टूबर अंतिम तिथि है। टेस्ट की तारीख 24 नवंबर से 07 दिसंबर तक तय की गई है और टेस्ट के परिणाम की  घोषणा 24 दिसंबर को की जाएगी।डॉक्टर रोशन लाल के अनुसार ये टेस्ट पूरे भारतवर्ष में लिया जा रहा है।एन जी ओज को ट्रेनिंग देने की कार्यशाला पश्चिम, दक्षिण और पूर्व भारत मे सम्पन्न हो चुकी है। उत्तर भारत के लिए ये आज आयोजित हो रही है। विभा वाणी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर एन पी राजीव ने बताया कि आज कार्यशाला के दौरान स्टेट कोऑर्डिनेटर और उनके साथ आये एन जी ओज को टेस्ट के बारे में प्रशिक्षित किया गया है। उन्होंने कहा कि इस टेस्ट का उद्देश्य छठी कक्षा से ही बच्चों में अपने कैरियर के प्रति सजगता लाना है।ताकि 12वीं कक्षा तक वो अपने आप को पूर्णतः सक्षम कर लें।एन पी राजीव के अनुसार इस टेस्ट का उद्देश्य यह भी है कि आर्थिक रूप से कमजोर तबके के बच्चों को आगे लाना ताकि पैसे की कमी के चलते वो इस टेस्ट से वंचित न रहे।उन्होंने आगे बताया कि 12वीं के बाद बच्चों की काउंसलिंग कर उनके रिजल्ट अनुसार उनके कैरियर के प्रति उचित गाइडेंस दी जाती है।

इस्तेखार अहमद बने ट्राईसिटी वेटर एसोसिएशन के प्रधान

चंडीगढ़: वेटर्स को पेश आ रही समस्यओं को लेकर गठित ट्राईसिटी वेटर एसोसिएशन-रजिस्टर्ड, की हुई बैठक में सर्वसम्मति से इस्तेखार अहमद को पुनः से प्रधान चुना गया। इस मीटिंग में ट्राईसिटी से बड़ी संख्या में…

गौड़ीय मठ मंदिर श्रद्धाभाव और हर्षोल्लास से मनाएगा राधा अष्टमी।

चंडीगढ़: श्री चैतन्य गौड़ीय मठ सेक्टर 20 चंडीगढ़ में राधा अष्टमी का त्यौहार बड़ी धूमधाम से 6 सितंबर 2019 को मनाया जाएगा ।उक्त जानकारी देते हुए मठ मंदिर के प्रवक्ता जयप्रकाश गुप्ता ने बताया राधा…