Category Archives: International News

Anti-Nicotine Monoclonal Antibody Gets Orphan Drug Status for Buerger’s Disease

New Delhi: ATI-1013 (Antidote Therapeutics), a fully human anti-nicotine monoclonal antibody, has been granted Orphan Drug Designation for the treatment of Buerger’s disease (thromboangitis obliterans). Buerger’s disease is a nonatherosclerotic, segmental inflammatory disorder that affects small and medium vessels of…

Dr. Jaswal from Fortis Hospital to attend Serbian conference on Interventional Cardiology

Mohali, September 5, 2018: Dr. R K Jaswal, Director Cardiology, Fortis Hospital Mohali, has been invited as the faculty member to the Serbian conference on Interventional Cardiology, cardiovascular imaging and drug therapy (SINERGY 2018) that will take place from…

6 सितंबर को शनि बदलेंगे चाल – तो कैसा रहेगा आपका हाल ?

चंडीगढ़- शनि ही एकमात्र ऐसा ग्रह है जो हम सब के जीवन में अधिक समय तक प्रभावित करता है। इसकी 19 साल की दशा, साढ़े सात साल की साढ़े साती और ढाई- ढाई  सालों के 2 ढैयये अर्थात 31वर्षों से भी अधिक समय तक शनि हमारे जीवन में रहता है। जब भी यह राशि बदलता हैे या वक्री या मार्गी होता है या उच्च या नीच राशि में प्रवेश करता है तो हर इन्सान की जिंदगी में सुखद यादुखद परिवर्तन अवश्य लाता है। इसी के कारण राजनीतिक उथल पुथल रहती है । आप नोट करें कि इस साल अप्रैल से लेकर 5 सितंबर तक शनि वक्री रहे । इस मध्य जल पलायन,अनिश्चितवर्षा, भूस्खलन, व भ्ूाकंपों ने अति कर दी। यही नहीं बड़ी आयु के नेताओं, पत्रकारों , विद्वानों ,धर्म गुरुओं आदि  से एक के बाद एक  वंचित होना पड़ा …………..       इस वर्ष 18 अप्रैल से धनु राशि में वक्री चल रहे शनि 6 सितंबर को शाम 4 बजकर 44मिनट पर मार्गी हो रहे हैं। शनि के मार्गी होने से पांच राशिवालों को लाभ होने वाला है। ये पांच राशियां अभी तक शनि के वक्रत्व काल में कई तरह की परेशानियों से जूझ रही थी। शनि142 दिन वक्री रहे।शनि कर्म और सेवा के कारक ग्रह हैं यानी शनि का सीधा-सीधा असर व्यक्ति की नौकरी और व्यवसाय पर होता है। शनि के वक्री और मार्गी होने कासकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह का असर हो सकता है। यह व्यक्ति की जन्मकुंडली में शनि की स्थिति के अनुसार होता है।     शनि गोचर और शनि साढ़ेसाती महत्वपूर्ण ज्योतिषीय घटनाक्रम हैं। शनि को क्रूर ग्रह माना गया है लेकिन स्वभाविक रूप से शनि न्याय प्रिय और दंडाधिकारी हैं इसलिए उन्हें कलयुग कान्यायाधीश कहते हैं। शनि का कार्य प्रकृति में संतुलन पैदा करना है इसलिए समस्त मानव जाति पर शनि का गहरा प्रभाव होता है। शनि कर्म और सेवा का कारक होता है । शनि की चाल का असरआपकी नौकरी व व्यवसाय में सफलता और उतार-चढ़ाव को दर्शाता है। इसके प्रभाव से ही मनुष्य के जीवन में बड़े बदलाव होते हैं। ये परिवर्तन सकारात्मक और नकारात्मक दोनों हो सकते हैं।इसका फल आपकी राशि और कुंडली में शनि की चाल और स्थिति से तय होता है।  ये पांच राशियां हैं वृषभ, कन्या, वृश्चिक, धनु और मकर। इनमें से वृषभ और कन्या राशि पर शनि का ढैया चल रहा है, जबकि वृश्चिक, धनु और मकर राशि पर साढ़ेसाती लगी हुई है। शनि जब मार्गीहोंगे तो इन्हीं पांच राशि वालों को ज्यादा लाभ मिलने के योग बनेंगे। यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है। मेष: आय में वृद्धि होगी। आय के नए स्रोत मिलेंगे। शत्रुओं से मिल रही पीड़ा खत्म होगी। नौकरी में प्रमोशन मिलेगा। परिवारजनों से संबंध सुधरेंगे।काली गाय को सरसो के तेल लगी रोटी खिलाएं। वृषभ: भाग्योदय का समय आ रहा है। जिन कार्यों में रूकावट आ रही थी, वह दूर होगी। नया कार्य रोजगार, जॉब प्राप्त होगा। अचानक बड़ा लाभ मिलेगा। शिक्षा और प्रेम संबंधी मामलों में लाभमिलेगा। गरीबों को काले कपड़े और काले जूते का दान करें, लाभ प्राप्त होगा। मिथुन: मिलाजुला परिणाम । कार्यस्थल पर मान-सम्मान बढ़ेगा। पत्नी से वैचारिक मतभेद दूर होंगे। अविवाहितों के विवाह के योग बनेंगे। लगातार शुभ समाचार मिलेंगे, लेकिन खर्च की अधिकतारहेगी। कुछ लोग परेशान कर सकते हैं। मंदिर में शनिवार के दिन काले तिल चढ़ाएं। कर्क: अब तक जो कानूनी विवाद चल रहे हैं वे दूर होंगे। शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी। जीवनसाथी से विवाद समाप्त होंगे। छात्रों को पढ़ाई में आ रही रूकावट समाप्त होगी। बच्चों के स्वास्थ्य मेंसुधार होगा। पुरानी बीमारी परेशान करेंगी। पक्षियों को दाना डालें, लाभ मिलेगा। सिंह: पारिवारिक जीवन में खुशियां आने वाली हैं । पुराने रोग समाप्त होंगे। संतानपक्ष की ओर से अच्छे समाचार मिलेंगे। आय बढ़ेगी। कार्यस्थल पर प्रसिद्धि बढ़ेगी। आर्थिक मोर्च पर परेशानी आसकती है। खर्च संभलकर करें। आर्थिक प्रबंध करना जरूरी होगा। नौकरी बदलने के योग बनेंगे। पीपल के पेड़ के नीचे सरसो के तेल का दीपक लगाएं। कन्या: शनि का ढैया चल रहा है। शनि का मार्गी होना लाभ देगा। भूमि, भवन, वाहन स्थायी संपत्ति मिलने के योग बनेंगे। मां के स्वास्थ में सुधार होगा। परिवार, जायदाद संबंधी कार्य ठीक होंगे। कोर्टकचहरी के मामलों में लाभ, कॅरियर में सुधार होगा। परिणाम मिला जुला मिलेगा। सफलता के लिए कड़ी मेहनत करना होगी। शनिवार या मंगलवार को हनुमानजी को सिंदूर चढ़ाएं। तुला: खुशियां मिलने वाली है। पराक्रम बढ़ेगा। आपकी निर्णय क्षमता बढ़ेगी। छोटे भाई बहनों की परेशानी समाप्त होगी। मानसिक तनाव खत्म होगा लंबी दूरी कीयात्रा पर जा सकते है। प्रॉपर्टी के मामलों में लाभ मिलेगा। खर्च पर लगाम लगेगी। उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने का योग बनेगा। आय बढ़ेगी। शनिवार के दिनकाले कुत्ते को बेसन के लड़डू खिलाएं । वृश्चिक: साढ़ेसाती का प्रभाव बना हुआ है। मानसिक तनाव कम होने से प्रत्येक क्षेत्र में बेहतर कर पाएंगे। नौकरी में तरक्की होगी। व्यापार में लाभ होगा। आय मेंवृद्धि होगी। कठिन परिश्रम के अच्छे नतीजे मिलने का समय आ गया है। रोजगार मिलेगा। अच्छे लाभ के लिए उपाय के रूप में रोगियों को दवा का दान करें।जीवनसाथी से संबंध मधुर होंगे धनु: पारिवारिक जीवन में खुशियां आने वाली हैं। कुटंुब और भाई-बहनों के लिए विशेष लाभ का समय है। चुनौतीपूर्ण स्थिति से निजात मिलेगी। मानसिक शांतिप्राप्त होगी। जीवनसाथी से संबंध मधुर होंगे। किसी भी कार्य में लापरवाही न करें। कार्य की अधिकता रहने वाली है। हनुमान मंदिर में लाल फूल जरूर चढ़ाएं। मकर: चुनौतीपूर्ण समय समाप्त होने वाला है। कार्यक्षेत्र में लाभ मिलेगा। धन लाभ मिलेगा। शत्रु परास्त होंगे। आय के साधनों में वृद्धि होगी और अपने ऐशो-आरामपर खर्च बढ़ेगा। रूके काम पूर्ण होंगे।